बोड़ेया में करम गोसाई की पूजा कल, कोरोना को लेकर ईंद मेला स्‍थगित

0

दैनिक झारखंड न्‍यूज

रांची । केंद्रीय युवा सरना विकास समिति के केंद्रीय कार्यालय बोडे़या में करमा पूजा को लेकर सोमा उरांव की अध्यक्षता में बैठक 29 अगस्‍त को हुई। महाराजा मदरा मुंडा द्वारा बनाए गए पड़हा व्यवस्था के अंतर्गत 22 पड़हा, 12 पड़हा, 21 पड़हा, झिका पड़हा और अन्य गांवों में 30 अगस्त को करम गोसाई को विधि पूर्वक अखड़ा में स्थापित कर पूजा अर्चना की जाएगी। वहीं 31 अगस्त को परना और एक सितंबर को करम गोसाई का विधि पूर्वक विसर्जन होगा। उसके बाद युवक युवतियां अपनी पारंपरिक वेशभूषा में सुसज्जित होकर सूतीयाम्बे गढ़ इंद जतरा में खोड़ा के रूप में सम्मिलित होंगे।

सोमा उरांव ने कहा कि करम गोसाई की पूजा भी कई प्रकार की होती है। डिंडा करम, राजी करम, बूढ़ी करम, ईंद करम, दसई करम, जितिया करम व  कार्तिक करम आदि छोटानागपुर क्षेत्र में प्रमुख रूप से मनाया जाता है। बैठक में विश्वकर्मा पहान, दुखू पहान, सुकरा पहान, संदीप उरांव, सचिव कैलाश मुंडा, ग्राम प्रधान बाहा उरांव, बिट्टू उरांव, बिरसा उरांव, राजू उरांव, बिरसा गाड़ी, आशीष बांडो, अविनाश रवि टोप्पो, रोशन टोप्पो व अन्य उपस्थित थे।

एतिहासिक ईंद मेला स्थगित
पिठोरिया के सुतियाम्बे में लगने वाला एतिहासिक ईंद मेला को कोरोना संक्रमण का खतरा देखते हुए स्थगित किया गया। मेला समिति के अध्यक्ष रंजीत टोप्पो, सचिव भादी प्रकाश उरांव, कोषाध्यक्ष रामु उरांव व संरक्षक पेपला उरांव ने बताया कि छोटानागपुर में करमा पर्व के बाद लगने वाला ईंद मेले की शुरुआत महाराजा मदरा मुंडा द्वारा की गयी थी। यह पहला अवसर है जब कोरोना महामारी के संक्रमण को देखते हुए मेला स्थगित किया गया। एक सितंबर को मेला समिति के लोग और पाहन द्वारा सोशल डिस्टेसिंग में मेला का पूजा पाठ विधिवत किया जाएगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.