टेस्टिंग सेंटर आनेवालों को मास्क लगाकर आना अनिवार्य होगा

0

दैनिक झारखंड न्‍यूज

रांची । झारखंड की राजधानी रांची में 18 अगस्त को रैपिड एंटीजेन मास टेस्टिंग कार्यक्रम होना है। इसके आयोजन को लेकर बैठक उपायुक्त छवि रंजन की अध्यक्षता में 16 अगस्‍त को आयोजित की गई। डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी सभागार में आयोजित बैठक में RAMT  (रैपिड एंटीजेन मास टेस्टिंग) के लिए प्रतिनियुक्त सभी  को-ऑर्डिनेटिंग ऑफिसर्स  को आवश्यक दिशानिर्देश दिया।

उपायुक्त ने कहा कि रैपिड एंटीजेन मास टेस्टिंग ड्राइव को सफल बनाने के लिए को-ऑर्डिनेटिंग ऑफिसर बनाए गए हैं। सभी को-ऑर्डिनेटिंग ऑफिसर अपने संबंधित क्षेत्र के लोगों का टेस्ट कराना सुनिश्चित करेंगे। यह मास टेस्टिंग ड्राइव शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में वैसे जगह कराया जाएगा, जहां पर लोग अपने कार्य करने के दौरान ज्यादा से ज्यादा लोगों के संपर्क में आते हैं। व्यावसायिक प्रतिष्ठान में कार्य करने वाले, सफाई कार्य से जुड़े लोग, अपने कार्यस्थल पर ज्यादा लोगों के कांटेक्ट में आनेवाले कर्मियों की भी टेस्टिंग की जाएगी।

सभी बीडीओ को प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी, जेएसएलपीएस, प्रखंड कृषि पदाधिकारी, बाल विकास परियोजना पदाधिकारी आदि से समन्वय कर ग्रामीण क्षेत्र में लोगों को मास टेस्टिंग की पूर्ण जानकारी उपलब्ध कराने और इस कार्य को संपन्न करने का दायित्व सौंपा गया है।

श्री रंजन ने सभी को-ऑर्डिनेटिंग ऑफिसर को सख्त आदेश दिया है कि जो भी लोग अपनी सैंपल देने टेस्टिंग सेंटर में आते हैं, उन्हें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य होगा। मास्क पहनना भी आवश्यक होगा। सभी को-ऑर्डिनेटिंग ऑफिसर आनेवालों लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ कतार में लगाना सुनिश्चित करेंगे।

सभी को-ऑर्डिनेटिंग ऑफिसर को प्रत्येक दो घंटे में टेस्ट रिपोर्ट के प्रगति की  जानकारी जिला स्तरीय कन्ट्रोल रूम को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है। इस अवसर उप विकास आयुक्त, एडीएम लॉ एंड आर्डर, अनुमंडल पदाधिकारी बुंडू,  उपसमाहर्ता भू राजस्व, सिविल सर्जन समेत सभी को-ऑर्डिनेटिंग ऑफिसर उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.