पांच महीने में दूसरी बार बढ़ा टोल टैक्‍स, वाहन मालिकों में आक्रोश

0

दैनिक झारखंड न्‍यूज

रांची । पांच महीने में दूसरी बार टोल टैक्‍स बढ़ा है। इससे वाहन मालिकों में आक्रोश है। इस मामले को लेकर संगठन विचार विमर्श कर जल्‍द ही आगे की रणनीति तय करेगा।

जानकारी के मुताबिक हजारीबाग रांची एक्सप्रेस वे में रांची-रामगढ़ के बीच टोल प्लाजा द्वारा टोल टैक्स की राशि बढ़ा दी गई है। परिवर व्‍यापारियों के मुताबिक राशि बगैर किसी सूचना के बढ़ाई गई है। उनके मुताबिक अप्रैल, 2020 के बाद दो बार टोल टैक्स बढ़ाया गया है।

व्‍यापारियों ने बताया कि Fastag के अनुसार मार्च, 2020 तक अप के लिए 100 रुपये और डाउन के लिए 50 रुपये लिया जा रहा था। अप्रैल, 2020 से टैक्‍स में बढ़ोत्‍तरी कर दी गई। अप के लिए 105 और डाउन के लिए 50 रुपये लिया जाने लगा। अगस्‍त में फिर बढ़ोत्‍तरी की गई। अब अप और डाउन दोनों के लिए 165-165 रुपये लिया जा रहा है।

टोल टैक्स वृद्धि से वाहन मालिकों के समक्ष नई समस्या उत्पन्न हो गई है। डीजल के दाम में बढ़ोत्तरी के बाद टोल टैक्स में वृद्धि ने वाहन मालिकों के लिये आर्थिक संकट खड़ा कर दिया है। कोरोना काल में परिवहन व्यवसाय की बदतर स्थिति से गुजर रहा है। ऐसे में रांची से रामगढ़, हजारीबाग तक आने-जाने में 330 रुपये टोल टैक्स देना लघुभार वाहनों के लिये बहुत बड़ी राशि होती है।

इस मामले में आज रांची गुड्स ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन (RGTA) के सदस्यों ने ऑनलाईन सवांद में अपनी समस्याओं से संगठन के पदाधिकारियों को अवगत कराया। इसमें निर्णय लिया गया कि इस मामले में शुक्रवार को सभी संबंधित सदस्यों की बैठक होगी। एक प्रतिनिधिमंडल टोल प्लाजा जाकर टोल प्लाजा कर्मियों से वस्तुस्थिति की जानकारी लेगा। उसके बाद आगे की रणनीति तय की जायेगी। संवाद में मदनलाल पारीक, प्रभाकर सिंह, एसबी सिंह, नीरज ग्रोवर, रणजीत तिवारी, कुंदन झा, रत्नेश सिंह, मुरारीचरण झा, संतोष सिंह, दीपक सिंह, विक्की सिंह आदि ने भाग लिया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.