कांग्रेस प्रवक्‍ता के बिजली वाले बयान पर प्रदेश अध्‍यक्ष स्‍टैंड क्‍लि‍यर करें : अजय राय

0

दैनिक झारखंड न्‍यूज

रांची । भगवान ना करे किसी भी परिवार के सदस्य विद्युत विभाग की लापरवाही से दुर्घटना का शिकार हो। वर्तमान में जो भी इससे प्रभावित हुए है, उनके प्रति हम सबकी संवेदना है। उस परिवार के प्रति सभी चिंतित हैं। हालांकि यह दुर्घटना कोई नई बात नहीं है। सालों से लगातार राज्य में दर्जनों विद्युत कर्मियों की मौत हुई, पर कांग्रेस के कोई नेता मदद करना तो दूर एक संवेदना प्रकट करने भी नहीं आये। अब जब इनके खुद के परिवार के लोग दुर्घटनाग्रस्त हुए है, तब विभाग की कमी इन्हें दिखाई देने लगी है। इससे पहले कभी चिंता इन्हें नही रही। उक्त बातें झारखंड ऊर्जा विकास श्रमिक संघ के अध्यक्ष अजय राय ने कांग्रेस के प्रवक्ता और पदधारियों द्वारा दिये गए बयान पर अपनी प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त करते हुए कही। उन्होंने कहा कि विद्युत विभाग के पदाधिकारियों पर एफआईआर की धमकी देकर भयादोहन का प्रयास कांग्रेसी नेता कर रहे हैं, जिसका हर स्तर पर श्रमिक संघ विरोध करेगा।

श्री राय ने प्रदेश कांग्रेस के प्रदर्शन अध्यक्ष रामेश्वर उरांव से सवाल किया है कि‍ जिस तरह का बयान कांग्रेस के प्रवक्ताओं ने दिया है, क्या वह पार्टी का अधिकृत बयान है ? अगर अधिकृत बयान है तो कांग्रेस के मंत्रियों को तत्काल राज्य सरकार के मंत्री पद से इस्तीफा देकर सीधा सड़क पर उतर कर संघर्ष करना चाहिए। ना कि सरकार में रहते हुए सरकार के अधिकारियों के ऊपर कालिख पोतने और एफआईआर दर्ज करने की धमकी देनी चाहिए। यह अपने आप में सोचनीय प्रश्न है। इसका जवाब कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉ रामेश्वर उरांव को देना चाहिए।

श्री राय ने कहा कि घटना दुर्घटना कहीं भी घट सकती है। यह कभी बोलकर नहीं आती है। अगर कांग्रेस जनों को लगता है कि सरकार हर मोर्चे पर विफल है तो उसको सरकार में बने रहने का 1 मिनट भी नैतिक अधिकार नहीं है। इसलिए कांग्रेस के नेता, प्रदेश अध्यक्ष, पदधारी आत्ममंथन करें। इस विषय पर अपना स्टैंड क्लियर करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.