निबंधक के आदेश पर अमल नहीं, महासंघ ने सहकारिता मंत्री से लगाई गुहार

0

दैनिक झारखंड न्‍यूज

रांची । एक साल से अधिक समय बीत जाने के बाद भी निबंधक के आदेश पर अमल नहीं हो रहा है। राज्य खाद्य निगम में सहायक गोदाम प्रबंधक के पद पर प्रतिनियुक्त प्रखंड सहकारिता प्रसार पदाधिकारी और सहकारिता प्रसार पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति रद्द नहीं हुई है। इससे सहकारिता से जुड़े काम प्रभावित हो रहे हैं। हालात को देखते हुए झारखंड राज्य अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ ने प्रतिनियुक्ति रद्द करने की गुहार सहकारिता मंत्री बादल पत्रलेख से है।

महासंघ के महामंत्री सुनील कुमार साह ने कहा कि तत्कालीन निबंधक (सहयोग समितियां) सुचित्रा सिन्‍हा ने इस बाबत सभी उपायुक्‍तों को आदेश (संख्या- 490 (2), दिनांक 06 फरवरी, 2019) दिया है।। इसपर तत्कालीन विभागीय मंत्री का अनुमोदन प्राप्त है। पत्र में स्पष्ट उल्लखित है कि राज्य में प्रखंडों/जिलों में कार्यरत सहकारिता प्रसार पदाधिकारी/ प्रखंड सहकारिता प्रसार पदाधिकारियों को राज्य खाद्य निगम में सहायक गोदाम प्रबंधक के पद पर की गई प्रतिनियुक्ति को तत्काल प्रभाव से समाप्त कि‍या जाता है। आदेश के एक वर्ष बीत जाने के बाद भी आजतक राज्य के कई जिलों में सहकारिता प्रसार पदाधिकारी/ प्रखंड सहकारिता प्रसार पदाधिकारियो की प्रतिनियुक्ति को समाप्त नहीं किया गया है।

श्री साह ने कहा कि अभी भी कई लोगों को इस सम्वर्ग को मार्केटिंग अफसर के पद पर भी उनके कार्यो के अतिरिक्त प्रतिनियुक्त कि‍या गया है। निबंधक के पत्र में स्पष्ट है कि इस सम्वर्ग की प्रतिनियुक्ति से सहकारिता विभाग से जुड़े कार्यो के निष्पादन में कठिनाई हो रही है। महासंघ के अध्यक्ष मुक्तेश्वर लाल, कोषाध्यक्ष गणेश प्रसाद सिंह, रमाकांत मिश्रा, घरभरन राम, मनु प्रसाद तिवारी, ललितेश्वर चौधरी, रामनिवास शर्मा, सुरेश हाजरा, अशोक चौधरी, रामअशीष पासवान, मो आलमगीर, सनातन कुमार, देव नारायण सिंह मुंडा, विनीत शाही, सांतोष कुमार, कौशल प्रसाद सिन्हा आदि ने मंत्री से मांग की है कि इस सम्वर्ग से राज्य खाद्य निगम में कोई भी प्रतिनियुक्ति नही की जाए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.