रांची के पानी से पतरातू में होगा बिजली का उत्पादन

0
  • बड़गाई में बन रहे एसटीपी से 20 एमएलडी पानी लेगा पीवीयूएनएल
  • 500 करोड़ से लेम बस्ती से पतरातु तक बिछेगा भूमिगत पाइप लाइन
  • जुडको, नगर निगम और पीवीयूएनएल के बीच होगा एकरारनामा

दैनिक झारखंड न्‍यूज

रांची । बड़गाई के लेम बस्ती में बन रहे सिवरेज ट्रीटमेंट प्लांट से पतरातु विद्युत उत्पादन निर्माण निगम पानी लेगा। इस परिशोधित पानी से एनटीपीसी बिजली का उत्पादन करेगा। लेम बस्ती से पीटीपीएस तक लगभग 40 किलोमीटर लंबा भूमिगत पाइप लाइन बिछाया जायेगा। इस योजना को लेकर नगर विकास सचिव ने रामगढ़ के उपायुक्त संदीप सिंह, रांची नगर निगम के आयुक्त मनोज कुमार और पतरातु विद्युत उत्पादन निर्माण निगम (पीवीयूएनएल) के अधिकारियों के साथ गुरुवार को बैठक की।

सचिव ने पीवीयूएनएल के महाप्रबंधक को निर्देश दिया कि एसटीपी से पानी पतरातु तक ले जाने की योजना पर जुडको, नगर निगम के साथ एक त्रि‍पक्षीय एकरारनामा पर हस्ताक्षर किये जाये। इसके बाद इस योजना का विस्तृत कार्य प्रतिवेदन तैयार कराया जायेगा। इस योजना पर पाइप लाइन बिछाने और अन्य कार्यों पर लगभग 500 करोड़ रुपये खर्च होने की संभावना है। रांची के बड़गाई मुहल्ले के लेम बस्ती में रांची नगर निगम द्वारा 37.5 एमएलडी क्षमता वाला सिवरेज ट्रीटमेंट प्लांट लगाया जा रहा है। इसका काम लगभग 40 प्रतिशत पूरा हो चुका है। नियमानुसार कुल परिशोधित पानी का 60 प्रतिशत यानी लगभग 20 एमएलडी पानी पीवीयूएनएल को दिया जायेगा। शेष परिशोधित जल आसपास की नदियों में प्रवाहित किया जायेगा।

केंद्र सरकार के नये नियम के अनुसार 50 किलोमीटर के दायरे में पड़ने वाले नगर निकाय के एसटीपी से परिशोधित जल उद्योगों में लेना अनिवार्य है। इसी नियम के तहत पीवीयूएनएल को रांची से पतरातु तक पाइप लाइन से पानी ले जाना पड़ रहा है। पीवीयूएनएल नगर निगम रांची से औद्योगिक दर पर पानी लेगा। पूरी योजना का खर्च भी पीवीयूएनएल ही उठायेगा। भूमि अधिग्रहण, वनभूमि अनापत्ति और आवश्यक कार्रवाई पीवीयूएनएल को ही पूरी करनी है। जुडको एवं नगर निगम इस कार्य में पीवीयूएनएल का सहयोग करेंगे। पाइप लाइन बिछाने का काम जुडको करेगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.