मास्‍क नहीं पहनने पर सजा : सरकार ने कहा, डरे नहीं, अपराध की गंभीरता के हिसाब से लगेगा जुर्माना

0

दैनिक झारखंड न्‍यूज

रांची । सरकार ने मास्‍क नहीं पहनने पर 2 साल की जेल और 1 लाख रुपये जुर्माना का प्रावधान किया है। इसका विभिन्‍न स्‍तरों पर विरोध शुरू हो गया है। राजनीतिक, सामाजिक और व्‍यापारिक संगठनों ने भी इसका विरोध किया है। विरोध के बीच सरकार ने इस बारे में सफाई दी है। उसने कहा है कि इससे डरे नहीं। अपराध की गंभीरता के हिसाब से जुर्माने की राशि तय की गई है। वह व्‍यावहारिक भी है।

स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने कहा है कि राज्य सरकार द्वारा संक्रामक रोगों के प्रसार एवं संक्रमण को रोकने के लिए झारखंड संक्रामक रोग अध्यादेश 2020 को मंत्रिपरिषद द्वारा स्वीकृत किया गया है। राज्य में ऐसा कानून उपलब्ध नहीं है, जिसके द्वारा सरकार के जारी निर्देशों का पालन सुनिश्चित किया जा सके। कोविड-19 संक्रमण की स्थिति में अनावश्यक भीड़ जमा नहीं होना, सामाजिक दूरी को बनाये रखना, नियमित रूप से मास्क पहनना आदि का पालन आवश्यक है ।

विभिन्न स्तरों से इस अध्यादेश के संबंध में दिये गये बयानों से ऐसा प्रतीत हो रहा है कि इसके प्रावधानों को लेकर लोगों के मन में कतिपय भ्रांतियां हैं। यह स्पष्ट करना है कि यह अध्यादेश हर प्रकार के संक्रामक रोगों की रोकथाम के लिए जन-मानस के व्यवहार और आचरण परिवर्तन के लिए राज्य सरकार द्वारा जारी किये गये दिशा निर्देशों का पालन सुनिश्चित करने के लिए है। अध्यादेश में तय दंड के प्रावधान अधिकतम प्रस्तावित दंड के रूप में है। इसके आलोक में जारी होने वाले रेगुलेशन में यह स्पष्ट रूप से अंकित किया जाएगा कि किस उल्लंघन के लिए कितनी राशि का दंड देना होगा। रेगुलेशन के गठन की कार्रवाई प्रक्रियाधीन है। इसमें जो दंड राशि का प्रावधान किया जाएगा, वह व्यावहारिक और अपराध की गंभीरता के समतुल्य होगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.