नवनिर्वाचित सांसद ने की पहल, सेना और ग्रामीणों के बीच बनी सहमति

0

दैनिक झारखंड न्‍यूज

रांची । राजधानी रांची के नवनिर्वाचित सांसद संजय सेठ की पहल रंग लाई। सड़क को लेकर सेना और ग्रामीणों के बीच सहमति बन गई। इससे रांची के टाटीसिलवे लालगंज महुआ टोली स्थित रोड पर सेना द्वारा गेट लगाने को लेकर पिछले कई दिनों से चल रहे विवाद पर विराम लग गया है। दरअसल रांची सांसद संजय सेठ कर पहल पर भाजपा नेता अजय राय और मुकेश मुक्ता के प्रयास से यह मामला सुलझ गया है।

इस संबंध में श्री राय ने बताया कि सेना और ग्रामीणों के बीच माहौल काफी गर्म था। कभी भी कोई अप्रिय घटना घट सकती थी। दोनों पक्षों को शांत कराने के बाद सौहार्दपूर्ण माहौल बनाते हुए बातों को सुननकर पहल की गई, जिसे दोनों पक्षों ने अपनी सहमति दी। इसमें कांके सीओ अनिल कुमार की भूमिका भी रही। उन्होंने सभी पक्षों को अपनी-अपनी बात शांतिपूर्ण तरीके से रखने व सामूहिक समाधान निकालने पर बल दिया।

श्री राय ने बताया कि बैठक में यह निर्णय लिया गया कि ग्रामवासी अपने पूरे परिवार की सूची सेना को उपलब्ध कराएंगे, जो सेना के सभी प्रवेश द्वारों पर उपलब्ध होंगी। ग्रामीण अपना पहचान पत्र दिखाकर आना-जाना कर सकेंगे। चूंकि मामला सेना की सुरक्षा का है। बैठक के बाद दोनों पक्षों के लोगों ने गेट लगवाने की पहल बड़े ही खुशनुमा माहौल में शुरू की।

इस अवसर पर कांके सीओ अनिल कुमार, कर्नल अमित कर्णवाल, मेजर चौहान सहित अन्य वरिष्‍ठ पदाधिकारी, सांसद प्रतिनिधि भाजपा नेता अजय राय, मुकेश मुक्ता, ग्राम प्रधान शिवनारायण मुंडा, प्रदेश भाजपा सैनिक प्रकोष्‍ठ के सह संयोजक संजीत कुमार, एपी साहू, अभय पांडेय, रविरंजन कुमार, लाल बाबू, एसपी चौधरी भी उपस्थित थे।

दरअसल लालगंज महुआ टोली के लोग लगातार सेना के गेट लगाने के खिलाफ आक्रोशित थे। इससे कभी भी कोई अप्रिय घटना घट सकती थी। इस मामले को लेकर रांची के सांसद संजय सेठ ने रांची उपायुक्त को इस पूरे मामले में हस्तक्षेप कर मामले को सुलह कराने की बात कही थी, ताकि शांतिपूर्ण तरीके से इस मामले का हल निकले।

Leave A Reply

Your email address will not be published.