अनुबंध पारा मेडिकलकर्मियों की अनिश्चितकालीन हड़ताल खत्‍म

0

दैनिक झारखंड न्‍यूज

रांची । अनुबंध पारा मेडिकलकर्मियों ने अनी अनिश्चितकालीन हड़ताल खत्‍म कर दी है। इसकी घोषणा स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री बन्‍ना गुप्‍ता ने की। उन्‍होंने कहा कि इनकी मांगों पर सकारात्‍मक पहल की जाएगी।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, मुख्य सचिव, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव, स्वास्थ्य सचिव के साथ प्रोजेक्ट भवन में हुई बैठक के बाद स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने आंदोलनरत स्वास्थ्यकर्मियों के साथ हुई वार्ता के बाद बताया। उन्‍होंने कहा कि कि परिवार का एक सदस्‍य रूठ जाता है, तो उसे मना लिया जाता है। उन्‍होंने कहा कि पारा मेडिकलकर्मियों ने सरकार के आग्रह पर हड़ताल को समाप्‍त कर दिया है। इसके लिए इनको धन्‍यवाद। इनकी मांगों पर सकारात्‍मक पहल की जायेगी।

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि अभी कोरोना का समय है। कोरोना संक्रमण के बाद मिलजुलकर आपस में बैठक जो भी समस्‍याएं है, उसे सुलझा लिया जायेगा। स्वास्थ्य मंत्री सुबह से ही हड़ताल को खत्म कराने के लिए प्रयासरत थे। सुबह स्वास्थ्यकर्मियों का एक प्रतिनिधिमंडल उनके आवास पर मिला। अपनी बातों को रखा। फिर स्वास्थ्य सचिव से वार्ता हुई। फिर स्वास्थ्य मंत्री की पहल पर मुख्यमंत्री के साथ एक महत्वपूर्ण बैठक में इनकी मांगों पर निर्णय लिया गया।

जानकारी कि झारखंड अनुबंधि‍त पारा चिकित्‍साकर्मी संघ के बैनर तले राज्‍यभर में अनुबंध पर कार्यरत पारा मेडिकल कर्मी 4 अगस्‍त से आंदोलन पर थे। वे सेवा नियमित करने, समान काम के बदले समान वेतन देने की मांग कर रहे थे। इसके अलावा उनकी कई मांगें थी। उनका कहना था कि कई आर मांगों पर वार्ता हुई। हर बार आश्‍वासन दि‍या जाता है, पर मांगों पर ठोस कार्रवाई नहीं की जाती है।

स्वास्थ्य मंत्री के साथ वार्ता कर अनुबंधित पारा मेडिकल कर्मियों ने हड़ताल के समाप्ति की घोषणा की। हड़ताल को लेकर अनुबंधित पारा चिकित्सा कर्मी संघ के अध्यक्ष विनय कुमार सिंह ने कहा क‍ि स्वास्थ्य मंत्री से सकारात्मक वार्ता हुई है। हम हड़ताल स्थगित करते हैं। आगे अगर मुख्य मांग नहीं मानी गयी तो हड़ताल करेंगे। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा क‍ि इनकी कुछ मांगों को मान लिया गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.