Feedback : ऑनलाइन क्‍लास के पक्ष में हैं 23 फीसदी अभिभावकों, जानें कैसे चाहते हैं बच्‍चों की पढ़ाई

0
  • सरकार को 72 हजार 289 अभिभावकों के मिले मंतव्य
  • ऑनलाइन 30 जुलाई तक मांगी थी अभिभावकों से राय

दैनिक झारखंड न्यूज

रांची । झारखंड के अधिकतर अभिभावक चाहते हैं कि हर दिन 2 से 4 घंटे क्‍लास चले। शिक्षा विभाग के ऑनलाइन फीडबैक में यह बात उभरकर सामने आई है। शिक्षा विभाग को पूरे राज्य से 72 हजार 289 अभिभावकों के मंतव्य प्राप्त हुए हैं। वर्तमान हालात को लेकर शिक्षा विभाग ने अभिभावकों से कई सवालों पर प्रतिक्रिया मांगी थी। उसमें अलग-अलग तरह के जवाब आए हैं। इसमें एक सवाल विद्यालय खोलने के लिए पसंदीदा समय से संबंधित था।

ये है शिक्षण अवधि की प्रतिक्रया

विभाग को मिले फिडबैक के मुताबिक 12  हजार 511 से अभिभावक यह चाहते हैं कि‍ कक्षा 2 घंटे तक चले। ऐसी राय रखने वाले अभिभावकों की संख्‍या 17.31 प्रतिशत हे। फीडबैक के अनुसार 34 हजार 423 अभिभावक चाहते हैं कि क्‍लास 2 से 4 घंटे हो। इनकी संख्‍या 47.62 फीसदी है। इसी तरह 4 से 6 घंटे क्‍लास चलने की इच्‍छा रखने वाले अभिभावकों की संख्या 25 हजार 355 यानी 35.07 फीसदी है।

ये है पसंदीदा शिक्षण का माध्‍यम

ऑनलाइन क्‍लास के पक्ष में राज्‍य के 23 फीसदी अभिभावक हैं। पसंदीदा शिक्षण का माध्‍यम के बारे में पूछे जाने सवाल पर 17 हजार 029 अभिभावकों ने ऑनलाइन शिक्षण पर सहमति जताई। ये फीडबैक का 23.56 फीसदी है। हर दिन स्‍कूल में पढ़ाई के पक्षधर 20 हजार 510 अभिभावक यानी 28.37 फीसद हैं। हर दूसरे दिन क्‍लास में पढ़ाई कराये जाने के पक्ष में 12 हजार 271 यानी 16.97 प्रतिशत अभिभावक हैं। इसी तरह ऑनलाइन और स्‍कूल में साथ-साथ पढ़ाई कराये जाने के पक्ष में 22 हजार 479 यानी 31.10 अभिभावक हैं।

ये है स्‍कूल खोलने का पसंदीदा समय

विभाग को मिली प्रतिक्रिया के मुताबिक 10  हजार 252 से अभिभावक यह चाहते हैं कि‍ स्कूल अगस्त में खोला जाए। ऐसा मंतव्‍य रखने वाले अभिभावकों की संख्‍या 14.18 प्रतिशत हे। फीडबैक के अनुसार 6 हजार 688 अभिभावक चाहते हैं कि स्कूल सितंबर से खुले। इनकी संख्‍या 9.25 फीसदी है। अक्टूबर से स्कूल खोलने की चाहत रखने वाले अभिभावकों की संख्या 4 हजार 666 यानी 6.45 फीसदी है। इसी तरह नवंबर में स्कूल खोलने के लिए 4 हजार 394 अभिभावक यानी 6.08 प्रतिशत राजी हैं। वैक्सीन आने के बाद स्कूल खोलने के पक्ष में 46 हजार 289 अभिभावक हैं। इनकी संख्‍या 64.03 प्रतिशत है।

30 जुलाई तक मांगा था फीडबैक

जानकारी हो कि राज्य सरकार ने कोविड-19 के मद्देनजर विद्यालय खोलने के लिये झारखंड के सभी सरकारी, निजी और सहायता प्राप्त विद्यालयों में पढ़ रहे बच्चों के माता-पिता और अभिभावकों से 30 जुलाई तक ऑनलाईन फीडबैक मांगा था।

सेक्‍टरवाइज अभिभावकों की संख्‍या

केंद्रीय स्‍कूल            3,250

अल्‍पसंख्‍यक            2,685

निजी                       36,997

सरकारी                  29,357

कुल                        72,289

Leave A Reply

Your email address will not be published.