अंशकालीन शिक्षकों की सेवा अवधि में एक साल का विस्‍तार

0

दैनिक झारखंड न्‍यूज

रांची । सरकार ने कल्‍याण विभाग के अधीन संचालित स्‍कूलों में कार्यरत अंशकालीन शिक्षकों की सेवा में विस्तार कर दिया है। इस संबंध में विभाग ने आदेश जारी कर दिया। उक्‍त आदेश में कहा गया है कि विभाग के नियंत्रण में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और पिछड़ी जाति के छात्र-छात्राओं को शिक्षा देने के लिए 143 विद्यालय चलाए जा रहे हैं। इनमें आवासीय उच्च विद्यालय, आवासीय प्लस टू विद्यालय, एकलव्‍य और आश्रम विद्यालय शामिल हैं। इन स्‍कूलों में 25,348 विद्यार्थी पढ़ रहे हैं।

विभाग के मुताबिक उक्त विद्यालयों में प्रधानाध्यापकों, स्नातक प्रशिक्षित शिक्षक, एवं इंटर/मैट्रिक प्रशिक्षक शिक्षकों की कमी के कारण पठन-पाठन के काम में बाधा आ रही थी। इस आलोक में चयनित अंशकालीन शिक्षकों के माध्यम से विद्यालयों में शिक्षण कार्य कराया जा रहा है। इन शिक्षकों को पढ़ाने के लिए 14 जुलाई 2019 तक या नियमित नियुक्ति होने तक रखने का आदेश था।

विभाग द्वारा संचालित आवासीय विद्यालयों में शिक्षकों की नियुक्ति के लिए अधियाचन भेजी चुकी है। हालांकि नियुक्ति में विलंब होने की आशंका है। शिक्षक नियुक्ति में संभावित देरी के मद्देनजर चयनित अंशकालिक शिक्षकों की कार्य अवधि में एक साल तक का विस्तार दिया गया है। इस अवधि विस्तार पर लगभग नौ करोड़ खर्च होने का अनुमान है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.