पेयजल मंत्री ने प्‍लाज्‍मा किया डोनेट, ठीक हो चुके मरीजों से आगे आने की अपील

0

दैनिक झारखंड न्‍यूज

रांची । झारखंड के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर ने 30 अगस्‍त को रिम्स जाकर अपना प्लाज्मा डोनेट किया। मंत्री ने कहा कि रिम्स में विगत 28 जुलाई से प्लाज्मा थैरेपी द्वारा कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज किया जा रहा है। झारखंड में कोरोना महामारी के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने प्लाज्मा थैरेपी से कोरोना संक्रमित लोगों के इलाज की व्यवस्था की है। इसी क्रम में मंत्री ने अपना प्लाज्मा डोनेट किया है।

विदित है कि श्री ठाकुर पिछले महीने कोरोना पाजिटीव हो गये थे। कोरोना को हराकर घर लौटे हैं। मंत्री ने कहा कि प्लाज्मा थैरेपी कोरोना संक्रमित के इलाज में काफी मददगार साबित हो रही है। कई राज्य इस पद्धति से इलाज भी कर रहे हैं। अब झारखंड में भी इस पद्धति से कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज हो रहा है। उन्‍होंने कहा कि किसी भी जरूरतमंद कोरोना संक्रमित मरीज को उनके प्लाज्मा की जरूरत होगी, तो वे हमेशा उपलब्ध रहेंगे। उनका ब्लड ग्रुप ए निगेटिव है।

मंत्री ने अपील किया है कि जो लोग कोरोना संक्रमित हो गये थे और जिन्होंने कोरोना से जंग जीती है, वैसे लोगों को आगे आकर अपना प्लाज्मा डोनेट करके कोरोना वारियर्स की भूमिका निभानी चाहिए। कोरोना को हराने में अपना महत्वपूर्ण योगदान देना चाहिए। मंत्री ने कहा कि इस विकट घड़ी में इससे बड़ा और कोई दान नहीं हो सकता है, क्यूंकि किसी का डोनेट किया हुआ प्लाज्मा किसी व्यक्ति की जान बचा सकता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.