NEET की परीक्षा को लेकर केंद्र अधीक्षक और समन्वयकों के साथ उपायुक्त ने की बैठक

0
  • NTA के गाइडलाइंस का पूरी तरह से करें पालन

दैनिक झारखंड न्‍यूज

रांची । नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) द्वारा 13 सितंबर 2020 को (NEET) UG-2020 की परीक्षा आयोजित की जा रही है। इसे लेकर 31 अगस्त को रांची उपायुक्त छवि रंजन की अध्यक्षता में रांची के सभी केंद्र अधीक्षकों/ समन्वयकों के साथ बैठक आयोजित की गई। रांची समाहरणालय में आयोजित बैठक में अनुमंडल पदाधिकारी सदर रांची लोकेश मिश्रा, नगर पुलिस अधीक्षक सौरभ, अपर जिला दंडाधिकारी विधि व्यवस्था अखलेश कुमार सिन्हा सहित कई केंद्र अधीक्षक/समन्वयक उपस्थित थे। बैठक में सभी केंद्र अधीक्षक/समन्वयक को कोविड-19 के शर्तों का पालन कराते हुए परीक्षा संपन्न कराने का निर्देश दिया गया।

NTA की गाइडलाइन के अनुसार करें व्यवस्था

उपायुक्त ने सभी केंद्र अधीक्षक/समन्वय को कहा कि परीक्षा के लिए एनटीए के गाइडलाइंस के अनुसार पूरी व्यवस्था करें। जो छात्र परीक्षा देने आएंगे, उनके थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था सुनिश्चित करें। परीक्षा केंद्र में छात्रों के प्रवेश के लिए सोशल डिस्टेंसिंग के पालन के साथ गोल घेरा बनाकर कतार की व्यवस्था करें। आवश्यकता पड़े तो इंट्री के लिए बैरिकेडिंग भी की जा सकती है। साथ ही उन्होंने सीटिंग अरेंजमेंट में भी सोशल डिस्टेंसिंग के अनुपालन की बात कही।

एंट्री और एग्जिट के लिए टाइम स्लॉट बनाएं

उपायुक्त ने कहा कि परीक्षा के लिए अलग-अलग कमरों में छात्रों के प्रवेश और निकासी के लिए अलग-अलग टाइम स्लॉट बनाएं, ताकि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा सके और भीड़ नहीं हो।

अभिभावकों के लिए शेल्टर की व्यवस्था करें

परीक्षा देने आने वाले छात्रों के साथ उनके अभिभावक भी परीक्षा केंद्र तक पहुंचते हैं। इसे लेकर उपायुक्त ने सभी परीक्षा केंद्र संचालकों से कहा कि वह अभिभावकों के लिए केंद्र के पास शेल्टर की व्यवस्था करें, ताकि अनावश्यक भीड़ नहीं हो।

कर्मियों की मेडिकल स्क्रीनिंग कराएं

परीक्षा के दौरान कार्य करने वाले पर्यवेक्षक और कर्मियों की मेडिकल स्क्रीनिंग कराने का आदेश दिया, ताकि यह सुनिश्चित हो सके परीक्षा के दौरान लगे पर्यवेक्षक और कर्मी कोरोना संक्रमित नहीं है।

20% मास्क रिजर्व रखे केंद्र उपायुक्त

श्री रंजन ने कहा कि परीक्षा के दौरान कुछ ऐसे छात्र भी हो सकते हैं, जिनके पास मास्क ना हो। ऐसी स्थिति में सभी केंद्र को NTA के गाइडलाइंस के अनुसार 20% मास्क रिजर्व रखना है।

मरीज मिलने पर रखें पूरी व्यवस्था

परीक्षा केंद्र में आने वाले स्टूडेंट्स की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। स्क्रीनिंग के दौरान अगर कोई छात्र सिंप्टोमेटिक मिलता है, तो इसके लिए गाइडलाइंस के अनुसार अलग से कमरे की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। स्कूलों द्वारा ऐसे छात्रों के लिए अलग कमरे की व्यवस्था को लेकर उन्होंने सदर अनुमंडल पदाधिकारी लोकेश मिश्रा को परीक्षा से 1 दिन पहले जाकर जांच करने का निर्देश दिया।

हर सेंटर में हेल्प डेस्क बनाएं

परीक्षा देने आने वाले छात्रों को किसी तरह की परेशानी नहीं हो। कोविड-19 शर्तों के अनुपालन को लेकर उनमें भ्रम की स्थिति ना हो इसे लेकर उपायुक्त ने सभी केंद्र संचालकों को हेल्प डेस्क बनाने का निर्देश दिया। उपायुक्त ने सभी केंद्र अधीक्षकों /समन्वयक से कहा कि परीक्षा के दौरान सावधानीपूर्वक सारी शर्तों का पालन सुनिश्चित कराएं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.