परियोजना प्रभावित 51 बच्‍चों को गोद लेकर शिक्षा मुहैया करा रहा है सीसीएल

0

दैनिक झारखंड न्‍यूज

रांची/लातेहार । कोल इंडिया की सहायक कंपनी सीसीएल ने अपने मगध-आम्रपाली क्षेत्र के 51 परियोजना प्रभावित बच्चों को गोद लिया गया है। उन्हे संत जोसेफ स्कूल, मंडेर और संत थॉमस स्कूल, टंडवा में हॉस्टल की सुविधा के साथ शिक्षा मुहैया करायी जा रही है। कंपनी शिक्षा से संबंधित खर्च यानी स्कूल फीस, हॉस्टल फीस, किताबें, स्टेशनरी आदि का भुगतान सीएसआर के तहत कर रही है।

सीएसआर पहल के अंतर्गत परियोजना प्रभावित ग्रामीणों के बच्चों को स्कूल आनेजाने के लिए 52 सीट वाली 2 स्कूल बस का परिचालन किया जा रहा है। एक बस आम्रपाली परियोजना के बच्चों और दूसरी मगध परियोजना के बच्चों के लिए उपलब्ध कराई गयी है। इन बसों का उद्घाटन सिमरिया के विधायक किशुन दास ने किया। दोनों परियोजना के विस्थापित गांवों के विभिन्न सरकारी और निजी स्कूलों में 387 डेस्क एवं बेंचों का वितरण किया गया है। फुलबसिया गांव स्थित स्कूल की बॉउंड्री का भी निर्माण किया गया है। ग्राम कुंडी में भी स्कूल का निर्माण किया जा रहा है।

सीसीएल के सीएमडी गोपाल सिंह ने कहा कि अब तक मगध परियोजना में 325 और आम्रपाली परियोजना में 77 विस्थापितों को भूमि के बदले सीसीएल में स्थाई नौकरी दी जा चुकी है। इसके अलावा सीसीएल प्रबंधन की अनुशंसा पर आउटसोर्शिंग कंपनियां मगध परियोजना में 418 और आम्रपाली परियोजना में 700 प्रभावित एवं विस्थापित रैयतों को उनकी दक्षता (कुशल और अकुशल) के आधार पर रोजगार उपलब्ध कराया है। उत्पादन एवं प्रेषण कार्यों में भी रोजगार के अन्य अवसर का सृजन हो रहे हैं, जिससे स्थानीय ग्रामीण अप्रत्यक्ष रूप से लाभांवित हो रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.