होटल व्‍यापार के संचालन की अनुमति नहीं देने के खिलाफ व्यवसायी उतरे सड़क पर

0
  • राजधानी रांची में निकाला कैंडल मार्च

दैनिक झारखंड न्‍यूज

रांची । झारखंड में होटल व्यापार को अब तक संचालन की अनुमति नहीं दी गई है। व्‍यापारियों को कठिनाईयों हो रही है। इसके कारण 30 जून को झारखंड चैंबर के बैनर तले राजधानी रांची के समस्त होटल व्यवसायियों ने स्टेशन रोड के पटेल चौक पर शांतिपूर्ण ढंग से कैंडल मार्च निकालकर अपना विरोध जताया। सदस्‍यों ने कहा कि एमएचए की गाइडलाइन के बाद देश के कई राज्यों में होटल को आरंभ कर दिया गया है। हालांकि झारखंड में अब तक इसके संचालन की अनुमति नहीं दी गई है। इसके कारण होटल संचालकों के साथ ही इस व्यापार से जुड़े असंख्य लोगों को भारी कठिनाइ हो रही है। यह भी कहा गया कि तीन माह से अधिक अवधि तक लॉकडाउन होने के बाद भी हम नियमित रूप से बिना किसी सरकारी सहयोग के अपने कर्मचारियों को हरसंभव सहयोग करते आ रहे हैं। सरकार को यह समझना चाहिए कि अधिक दिन तक व्यापार बंद करके ऐसा कर पाना किसी के लिए संभव नहीं है।

चैंबर महासचिव धीरज तनेजा ने कहा कि कोरोना की लड़ाई में हम सरकार के साथ हैं, किंतु अब व्यापार को अधिक दिन तक बंद नहीं रखा जा सकता। यह सर्वविदित है कि संकटकाल जल्द समाप्त होनेवाला नहीं है। इसलिए उचित यही होगा कि सुरक्षा के सभी मापदंडों का पालन कराते हुए राज्य में सभी व्यापार को संचालन की अनुमति दी जाय। अब अधिक दिन तक व्यापार बंद करना राज्य के साथ ही लोगों को बेरोजगारी की ओर ले जायेगा, जिसपर सरकार को शीघ्र संज्ञान लेना अति आवश्यक है।

कैंडल मार्च में चैंबर उपाध्यक्ष प्रवीण जैन छाबड़ा, राम बांगड़, महासचिव धीरज तनेजा, सह सचिव मुकेश अग्रवाल, सदस्य रोहित अग्रवाल, नवजोत अलंग, रोहित पोद्दार, चिरंजीव कुमार रॉय, संतोष सिंह, अरविन्द खुराना, मो अली, सतपाल सिंह, रंजीत राजपाल, दीपक सोनी, बाल्मीकि सिंह सहित कई होटल व्यवसायी उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.