बिनोद बिहारी महतो कोयलांचल विश्वविद्यालय ने जीती ओवर आल चैंपियनशिप

0
  • बीएयू में प्रथम झारखंड अंतर विश्वविद्यालय युवा महोत्सव–2019 संपन्‍न  

दैनिक झारखंड न्‍यूज

रांची । बिरसा कृषि विश्वविद्यालय की मेजबानी में चल रहे प्रथम झारखंड अंतर विश्वविद्यालय युवा महोत्सव–2019 प्रतियोगिता मंगलवार को संपन्‍न हो गई। बिनोद बिहारी महतो कोयलांचल विश्‍वविद्यालय ने ओवर ऑल चैंपियनशिप का खिताब जीता। इस महोत्सव में 8 विश्वविद्यालयों के 226 छात्र-छात्राओं ने 19 प्रतिस्पर्धाओं में भाग लिया। भाग लेने वालों में अधिकतर छात्राएं रही, जिन्होंने सबसे अधिक पुरस्कार जीता।

मौके पर विशिष्ट अतिथि विनोबा भावे विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ रमेश शरण ने कहा कि युवा महोत्सव में छात्रों को कला प्रतिभा दिखाने का मंच मिलता है। साथ ही, मित्रता स्थापित करने, आचार-विचार और बौद्धिक विकास का सुअवसर भी मिलता है। उन्होंने कहा कि हमारे समय में कला प्रदर्शन मंच का काफी अभाव था। आज के युवाओं को कला दिखाने के क्षेत्र में बेहतरीन अवसर मौजूद हैं।

मुख्य अतिथि बीएयू कुलपति डॉ पी कौशल ने कहा कि जीवन में अनेक उतार-चढ़ाव आते रहेंगे, जीत-हार लगी रहेगी। हमें जीवन में उर्जा, विश्वास और अनुशासन बनाये रखना होगा। जीवन में कई निर्णायक मोड़ आते है। इनमें से कोई मोड़ जीवन, देश और समाज के लिए उदाहरण बन जाता है। मौके पर कुलपति ने सर्वाधिक 16 पुरस्कार जीतने वाले धनबाद स्थित बिनोद बिहारी महतो कोयलांचल विश्वविद्यालय को ओवर आल चैंपियनशिप ट्राफी प्रदान किया। इस विश्वविद्यालय ने मूक अभिनय, पाश्चात्य संगीत (एकल) और शास्त्रीय नृत्य (एकल) में प्रथम पुरस्कार जीते।

महोत्सव में रांची विश्वविद्यालय ने भाषण कला, धारा प्रवाह भाषण, रंगोली, ऑन स्पॉट पेंटिंग, पोस्टर निर्माण, क्ले मॉडलिंग, कार्टून एवं कोल्लाज में प्रथम पुरस्कार सहित कुल 13 प्रथम पुरस्कार जीते। विश्वविद्यालय के कुलदीप सोरेन ने क्ले मॉडलिंग, कार्टून एवं कोल्लाज और अंकित कुमार सिंह ने भाषण कला एवं धारा प्रवाह भाषण में प्रथम पुरूस्कार जीते। अश्विनी कुमार ने रंगोली, अमन शर्मा ने ऑन स्पॉट पेंटिंग तथा रिया मंडल ने पोस्टर निर्माण में प्रथम स्थान पाया।

विनोवा भावे विश्वविद्यालय ने क्विज, प्रहसन, एकांकी नाटक, मिमिक्री और झांकी में 10 पुरस्कार जीते। कोल्हान विश्वविद्यालय चाईबासा ने एकल गायन, सामूहिक नृत्य (देशभक्ति एवं क्षेत्रीय) और लोक नृत्य में प्रथम पुरस्कार सहित 5 पुरस्कार जीते। राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय ने वाद-विवाद में प्रथम पुरस्कार सहित चार पुरस्कार जीते। सिदो कान्हू मुर्मू विश्वविद्यालय दुमका ने 4 पुरूस्कार और मेजबान बिरसा कृषि विश्वविद्यालय ने 5 पुरस्कार जीते। बीएयू की दिव्या राज भारती ने पेंटिंग में द्वितीय पुरूस्कार जीता। इन दोनों विश्वविद्यालय को किसी स्पर्धा में प्रथम पुरूस्कार नहीं मिला।

इस अवसर पर छात्रों में सिमरन छाबड़ा, अंकित कुमार दुबे और सत्यभामा कौशिकी ने युवा महोत्सव के अनुभव, सीख, समय प्रबंधन, एकता, धैर्य, कला प्रतिभा और उर्जा की बातें साझा की। आयोजन सचिव सह बीएयू के निदेशक छात्र कल्‍याण डॉ एमएस यादव ने स्‍वागत, पुरस्कार वितरण का संचालन डॉ सुशील प्रसाद, समापन समारोह का संचालन श्रीमती शशि सिंह और धन्यवाद डॉ निभा बाड़ा ने किया।

समारोह में बिनोद बिहारी महतो कोयलांचल विश्वविद्यालय के प्रधानाचार्यो में डॉ शर्मीला राम, डॉ रेणुका ठाकुर एवं डॉ बीके सिन्हा, विश्वविद्यालयों की टीम प्रबंधकों में डॉ एम मूर्मू, डॉ गुंजन, डॉ सविता सिंह, डॉ संदीप कुमार पांडे, डॉ केके बोस, डॉ रेश्लिना सिंह, डॉ सनातन दीप, प्रो बलजीत सिंह एवं डॉ मीणा मलखंदी, पूर्व मुख्य वन संरक्षक डॉ एके मिश्रा और बीएयू के डॉ एमपी सिन्हा, डॉ महादेव महतो, डॉ आरएस कुरील, डॉ जगरनाथ उरांव, डॉ एमएस मल्लिक, डॉ डीके शाही, प्रो डीके रूसिया, डॉ बीके अग्रवाल सहित छात्र–छात्राएं मौजूद थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.