स्‍पष्‍टीकरण निरस्‍त करने के लिए BEEO ने शिक्षक से मांगे थे पैसे, घूस लेते ACB ने किया गिरफ्तार

0

दैनिक झारखंड न्‍यूज

चाईबासा । भ्रष्‍टाचार निरोधक ब्‍यूरो (एसीबी) ने प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी (बीईईओ) गंगाधर प्रसाद सिन्‍हा और सीआरपी जाहिर अख्‍तर को घूस लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। स्‍पष्‍टीकरण को निरस्‍त करने के लिए बीईईओ ने शिक्षक से पैसे मांगे थे। यह मामला जिले के नोआमुंडी स्थित दूधबिला उच्च विद्यालय से जुड़ा है।

जानकारी के मुताबिक स्‍कूल के शिक्षक मनीष उरांव का 2 माह के वेतन बकाया था। उसकी निकासी के लिए लेकर बीईईओ द्वारा घूस की मांग की गई थी। शिक्षक के काफी आग्रह के बाद बीईईओ ने वेतन की निकासी तो कर दी। हालांकि घूस का पैसा नहीं देने पर बीईईओ ने शिक्षक से स्पष्टीकरण मांग दिया। स्पष्टीकरण के संबंध में शिक्षक द्वारा जब जानकारी ली गई, तब उनसे कहा कि सीआरपी जाहिर अख्तर से बात कर लो।

शिक्षक द्वारा जब सीआरपी से बात की गई, तब उन्‍होंने कहा कि साहब 5000 रुपये की मांग कर रहे। पैसा देने पर स्पष्टीकरण निरस्त कर दिया जाएगा। इस मामले को लेकर मनीष उरांव ने एसीबी में मामला दर्ज कराया। मामले की सत्यता को लेकर एसीबी द्वारा जांच की गई। इसमें यह सही पाया गया। इसके बाद एसीबी के डीएसपी जितेंद्र दुबे के नेतृत्व में एक टीम गठित की गई। टीम ने बीईईओ गंगाधर प्रसाद सिन्‍हा और सीआरपी जाहिर अख्तर को घूस लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.