क्रांति दिवस की याद में पर्यावरणविद ने लगाए कपूर के पौधा

0
  • आजादी की दूसरी लड़ाई प्रदूषण जैसी शत्रु से लड़ना अभी बाकी है : कौशल

अरविंद अग्रवाल

पलामू । जिले के छतरपुर अनुमंडल की ग्राम पंचायत डाली बाजार के कौशल नगर परिसर में क्रांति दिवस की याद में 9 अगस्‍त को कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसका उदघाटन मुख्य अतिथि विश्वव्यापी पर्यावरण संरक्षण अभियान के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह पर्यावरण धर्म व वन राखी मूवमेंट के प्रणेता पर्यावरणविद कौशल किशोर जायसवाल ने कपूर का पौधा लगाकर किया। उन्होंने राष्ट्रीय गान और पर्यावरण धर्म के प्रार्थना के साथ उपस्थित लोगों को पर्यावरण धर्म के आठ मूल मंत्रों की शपथ दिलाई।

पर्यावरणविद श्री कौशल ने भारत छोड़ो आंदोलन के स्वतंत्रता सेनानियों को विनम्र श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि देश के महान वीर सपूतों ने अपनी जान की आहूति देकर अंग्रेज से देश को आजादी दिला। हालांकि लेकिन देश के लोगों को प्रदूषण जैसे शत्रु से आजादी दिलाना अभी बाकी है।

वन राखी मूवमेंट के प्रणेता ने कहा कि अंग्रेजी हुकूमत लोगों का शोषण करता था, परंतु प्रदूषण जैसा शत्रु धरती और ब्राह्मांड के 84 लाख योनि जीवों के साथ-साथ सभी सजीव- निर्जीव को भारी नुकसान पहुंचा रहा है। प्रदूषण से आजादी दिलाने के लिए कोई शस्त्र या मिसाइल उठाने की आवश्यकता नहीं है। दुनिया के सभी उम्र के लोगों को पौधा रूपी मिसाइल धरती मां के नाम समर्पित करने की आवश्यकता है। इससे एक स्वच्छ युग का निर्माण होगा।

संस्था के राष्ट्रीय प्रधान सचिव पूनम जायसवाल ने कहा कि लोग पौधा लगाकर इसकी अपने बच्चे की तरह देखभाल करें, तभी हम प्रदूषण जैसे शत्रु से जीत सकेंगे। अध्यक्षता कर रहे ग्राम पंचायत डाली बाजार के मुखिया अमित कुमार जायसवाल ने कहा कि कोरोना काल में लोग सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाना नहीं भूलें। उन्होंने लोगों से बेवजह नहीं घूमने की अपील की, ताकि करोना से आजादी मिल सके।

कार्यक्रम के संचालन करते हुए संस्था के राष्ट्रीय सचिव अरविंद कुमार उर्फ निकू ने कहा कि संस्था का अधिवेशन कोरोना से शांति मिलने के बाद होगा। उसमें समाज सेवा के क्षेत्र में रुचि रखने वाले लोगों को संस्था में जोड़ा भी जाएगा। कार्यक्रम में अरुण कुमार जायसवाल, कोमल जायसवाल, रोहित जायसवाल, ज्योति जायसवाल, जुबेर अंसारी, उमेश राम, रामू कुमार, आराध्या कुमारी, आकाश कुमार, छोटू कुमार उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.