यूनिवर्सिटी की प्रो वीसी ने बीएस कॉलेज के विद्यार्थियों को मनाया

0
  • कैंपस में सीसीटीवी और अन्य व्यवस्था बहाल करने का आश्वासन दिया
  • कॉलेज में तालाबंदी खत्म, सुचारू रूप से कॉलेज संचालन पर हुई चर्चा

लोहरदगा से आनंद कुमार सोनी

लोहरदगा । छात्रा से छेड़खानी मामले को लेकर मचे बवाल के तीसरे दिन बीएस कॉलेज में रांची यूनिवर्सिटी की प्रो वीसी डॉ कामिनी कुमार पहुंचीं। इनके साथ यूनिवर्सिटी के सीसीडीसी लाल गिरजा शंकर नाथ शाहदेव भी थे। दोनों ने कॉलेज के शिक्षक, कर्मचारी और छात्र-छात्राओं से बात की। छात्रों से अलग से भी बात की।

गौरतलब है कि उर्दू विभाग में कांट्रेक्‍ट पर कार्यरत सहायक प्रोफेसर मो जुबैर द्वारा कथित तौर पर छात्राओं से छेड़खानी करने के बाद काफी बवाल मचा था। यह घटना 28 मई को घटी थी। कॉलेज में ही छात्र-छात्राओं ने आरोपी प्रोफेसर की धुनाई भी कर दी थी। छात्राओं की लिखित शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपी शिक्षक को जेल भेज दिया था।

इसके बाद भी कॉलेज के स्टूडेंट्स का गुस्सा शांत नहीं हुआ। उन्‍होंने 29 मई को कॉलेज में तालाबंदी कर दी। तमाम प्रयास विफल रहने पर देर शाम यूनिवर्सिटी के प्रॉक्टर डॉ दिवाकर मिंज पहुंचे। छात्रों को कॉलेज खुलने देने को राजी किया।

आज प्रो वीसी और सीसीडीसी ने कॉलेज में करीब 3 घंटे तक अलग-अलग पक्षों से बात की। छात्र-छात्राओं ने सुरक्षा और कॉलेज में पठन-पाठन के साथ अन्य सुविधाएं बहाल करने की मांग की। सभी क्लास रूम में सीसीटीवी लगाने की बात कही। प्रो वीसी ने कहा कि छात्र-छात्राओं की सारी समस्याओं को गंभीरता से सुना गया। इन पर त्वरित और सकारात्मक कार्रवाई की जाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.