जिले में 133 लोगों का लाइसेंस रद्द करने की परिवहन विभाग को मिली अनुशंसा

0

आनंद कुमार सोनी

लोहरदगा । जिले में 133 लोगों का लाइसेंस रद्द किया जाएगा। इसकी अनुशंसा परिवहन विभाग को मिली है उपायुक्त दिलीप कुमार टोप्पो की अध्यक्षता में 25 जुलाई को जिला स्तरीय सड़क सुरक्षा समिति की हुई बैठक में यह जानकारी दी गई। इसमें पुलिस विभाग को नियमित वाहन चेकिंग करने का आदेश दिया गया। उपायुक्त ने कहा कि लोगों को वाहन चेकिंग में पुलिस का सहयोग करना चाहिए, क्योंकि यह चेकिंग लोगों की जान बचाने के लिए ही है। पुलिस विभाग द्वारा बताया गया कि इस माह 175 वाहनों की चेकिंग की गई।

गड्ढों को तत्काल भरा जाय

राष्ट्रीय उच्च पथ के अभियंता को निर्देश दिया गया कि लोहरदगा-बेड़ो पथ में बन चुके छोटे-बड़े सभी गड्ढों को तत्काल भरा जाय। इससे संभावित दुर्घटना को रोका जा सकता है। राष्ट्रीय उच्च पथ के अभियंता ने बताया कि कुडू-घाघरा पथ का भी चैड़ीकरण किया जाना है। इसमें रास्ते में पड़ने वाले बिजली के खंभे और अन्य चीजों को चिन्हित किया जा रहा है।

स्‍कूलों में नहीं हुआ कार्यक्रम

शिक्षा विभाग को सड़क सुरक्षा से संबंधित जानकारियों के लिए विद्यालयों में कार्यक्रम आयोजित किये जाने का आदेश दिया गया था। जिला शिक्षा पदाधिकारी ने बताया कि कोविड-19 की वजह से विगत मार्च से सभी कोटि के विद्यालय बंद है। इस वजह से यह कार्यक्रम आयोजित नहीं किया जा सका है। इसके लिए विद्यालयों में नोडल शिक्षकों का चयन किया जा चुका है।

लंबित रिपोर्ट जल्‍द दें

उपायुक्त द्वारा सदर अस्पताल के उपाधीक्षक को निर्देश दिया गया कि सड़क दुर्घटना में मृत व्यक्ति के पोस्टमार्टम से संबंधित जितने भी रिपोर्ट लंबित हैं, वे सभी जल्द से जल्द जिला परिवहन विभाग को उपलब्ध करायें, ताकि मृतक के परिजनों को मुआवजा मिल सके।

1.67 लाख की वसूली

जिला परिवहन पदाधिकारी ने बताया कि जिले में बीते माह से अब तक 142 वाहनों की जांच और जुर्माना 1,67,500 रुपये वसूला गया। 133 लोगों का लाइसेंस रद्द करने के लिए अनुशंसा प्राप्त हुए हैं। उपायुक्त द्वारा जिला परिवहन पदाधिकारी को आदेश दिया गया कि वाहनों की चेकिंग सख्ती के साथ की जाय। लॉकडाउन के दौरान वाहन चालन से संबंधित जो भी निर्देश हैं, उसे सख्ती से पालन कराया जाय। दोपहिया वाहन चालक के लिए हेलमेट और मास्क को ध्यान में रखकर नियमित चेकिंग करें। भारी वाहनों के लिए सुप्रीम कोर्ट एवं परिवहन विभाग के पत्र के आलोक मे वाहनों का फिटनेस कड़ाई से जांच करें। बिना रिफ्लेक्टिव टैप लगे वाहनों का फिटनेस सर्टिफिकेट निर्गत नहीं करें।

जल जमाव नहीं हो

नगर पर्षद के कार्यपालक पदाधिकारी को आदेश दिया गया कि लोहरदगा सदर के भीतर जितनी भी सड़कें खराब हैं, उन्हें संबंधित विभाग से समन्वय बनाते हुए ठीक करायें। साथ ही जिनका भुगतान बाकी है, उन्हें जल्द भुगतान कर कार्य पूरा करायें। बस स्टैंड के लिए जमीन चिन्हित कर अग्रेतर कार्रवाई की जाय। जल्द इसका निर्माण कार्य प्रारंभ कराया जाय। शहर में जल जमाव किसी भी कीमत पर नहीं हो। अन्य विभागों के द्वारा निर्मित सड़कों के लिए भी उपायुक्त द्वारा आदेश दिया गया कि जल जमाव नहीं होना चाहिए और उस गड्ढों को भर दें।

कॉमर्शियल निबंधन हो

हिंडाल्को प्रबंधन को निर्देश दिया गया कि जिन वाहनों का इस्तेमाल कॉमर्शियल रूप में किया जा रहा है, उन वाहनों का निबंधन कॉमर्शियल वाहनों के अंतर्गत ही कराया जाय। बैठक में अनुमंडल पदाधिकारी ज्योति झा, जिला परिवहन पदाधिकारी अमित बेसरा, डीएसपी परमेस्वर प्रसाद, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी पलटू महतो, नगर पर्षद के कार्यपालक पदाधिकारी देवेंद्र कुमार, जिला शिक्षा पदाधिकारी रतन महावर, सदर अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ सेनगुप्ता, समाज सेवी संजय वर्मन, अरुण कुमार शिक्षक, समेत संबंधित विभागों के पदाधिकारी और अभियंता समेत प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.