दूसरे राज्‍यों से लौटे प्रवासियों को गांव के बाहर रखा गया है तंबू में

0

आनंद कुमार सोनी

लोहरदगा । जिले के सेन्हा प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न क्षेत्रों से रोजी रोटी की तलाश में दूसरे प्रदेश काम करने गए मजदूरों के लौटने पर गांव के लोगों ने उन्‍हें गांव के बाहर खेत में तंबू लगाकर रखा है। इस तरह का मामला झालजमीरा पंचायत में देखने को मिला। बिहार और यूपी के अलग-अलग जिलों से 60 प्रवासी परिवार सहित अपने गांव पहुंचे थे।

लोहरदगा सदर अस्पताल में थर्मल स्क्रीनिंग जांच कर मेडिकल टीम द्वारा 14 दिनों के लिए होम क्वारंटाइन किया गया था। साथ ही सभी को शारीरिक दूरी बनाने और मास्क लगाने की जानकारी देते हुए घर भेजा गया था। उन प्रवासियों के घरों में संसाधन नहीं होने के कारण प्रवासियों के परिवार और ग्रामीणों की संयुक्त पहल से गांव के बाहर तंबू लगाकर रखा गया।

प्रदीप उरांव, प्रकाश उरांव, विकास उरांव, लालू उरांव, विनय उरांव, चरकु उरांव, चोरा उरांव, महादेव उरांव, मंगी उरांव, सालु उरांव इनमें शामिल हैं। ज्ञात हो कि इन प्रवासियों की सुध लेने अभी तक कोई अधिकारी और ना ही कोई पंचायत प्रतिनिधि पहुंचे हैं। बताते चले कि आपदा राशन कोष के तहत प्रवासियों को राशन मुहैया के लिए सरकार मुहिम चला रही है। इस मुहिम का लाभ प्रवासियों को नहीं मुहैया कराया जा रहा है। किसी तरह गरबी अपना जीवन यापन कर रहें है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.