हिंडाल्को का रोपवे बनी लोगों के गले की हड्डी

0
  • अक्‍सर लग जाता है लंबा जाम, आवागमन में होती है परेशानी

लोहरदगा से आनंद कुमार सोनी

लोहरदगा । हिंडाल्‍को का रोपवे लोगों के गले की हड्डी बन गई है। इसकी वजह से अक्‍सर लंबा जाम लग जाता है। इससे लोगों को आवागमन में परेशानी होती है। कई बार ट्रेन-बस तक छूट जाते हैं। मरीज समय पर अस्‍पताल नहीं पहुंच पाते हैं। लगभग हर दिन की यही होता है।

बीते दिनों सुबह में लोहरदगा साइडिंग में बना हिंडाल्को रोपवे में समान लदा ट्रेलर फंस गया। इससे सड़क में वाहनों की लंबी कतार लग गयी। ट्रेन का समय और सड़क जाम होने के कारण कई यात्रियों को अपनी यात्रा स्‍थगित करनी पड़ी। घंटो मसक्कत के बाद ट्रेलर का हवा निकाल कर जाम हटाया गया।

बताते चलें कि कंपनी का ब्रिटिश जमाने से पहाड़ से बॉक्साइट ढोने वाली रोपवे बनी हुई है। वह बिना ड्राईवर, ईंधन के वर्षो काम कर रहा है। कंपनी को भारी कमाई हो रही है। नुकसान आम लोगों को हो रहा है। इसके बावजूद बॉक्साइट ढुलाई करने वाली ट्रॉली को ऊंचा करने पर कोई ध्‍यान नहीं दिया जा रहा है। इससे ऊंचे और भारी ट्रेलर आये दिन इस रोपवे में फंस जाते हैं। इससे वाहन मालिक और आमजनों को नुकसान होता है।

कंपनी द्वारा शहर के बीचोबीच बगल में ही डंपिंग यार्ड भी बनाया गया है। इसका मुख्य द्वार मेन रोड पर स्थित है। यहां दिन रात हजारों बॉक्साइट भरा ट्रक आता जाता रहता है। इस क्रम में ट्रक चालक ‘पहले हम’ के चक्कर में मनमानी तरीके से पूरे शहर को जाम कर देते हैं। इससे मुक्ति के लिए आजतक कोई अधिकारी, नेता, मंत्री, जनप्रतिनिधि या प्रबंधक ने ठोस कदम उठाने का जहमत नहीं ली।

इस मामले पर उपायुक्त कुछ भी नहीं बोलना चाहती है। लोहरदगा हिंडाल्को कंपनी के ऑफिस अधिकारी कहते हैं कि ये हमारी जवाबदेही नहीं। पथ परिवहन का मामला है। सड़क बनता गया और ऊंचा होता गया। ऐसा मामला देश में हजारों जगह है। विभाग को सड़क नीची बनानी चाहिये। कंपनी के लिए यह संभव नहीं कि‍ लोहरदगा से लेकर बगड़ू तक बॉक्साइट ट्रॉली/रोपवे सिस्टम को बनाए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.