तो बड़ा हादसा होने के बाद ही शिकायतों पर संज्ञान लेगा विद्युत विभाग

0

आनंद कुमार सोनी

लोहरदगा । विद्युत विभाग बड़े हादसे का इंतजार कर रहा है। शायद यही कारण है कि बार-बार की जा रही शिकायतों पर ध्‍यान नहीं दे रहा है। विभाग की लापरवाही से आने वाले दिनों में किसी बड़ी अप्र‍िय घटना से इनकार नहीं किया जा सकता है। सामाजिक विचार मंच ने इस ओर उपायुक्‍त का ध्‍यान आकृष्‍ट कराया है।

कचहरी रोड स्थित उमा वस्त्रालय की बिल्डिंग में बीते लगभग साढे तीन वर्षो से बिजली का खंभा गिरा हुआ है। यह सटा हुआ है। पूरे घर में करंट आता है। डर से छत पर जाना लोगों का मुहाल हो गया है। लगातार शिकायत के बाद भी अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

राजकीयकृत हिंदी मध्य विद्यालय (हरिजन स्कूल) के समीप लगभग 3 महीने से रात को ट्रांसफार्मर से धुआं निकलता है। इसकी लिखित और मौखिक शिकायत विभाग से की गई। उसमें मामूली सा तेल डालने की जरूरत है, लेकिन आज तक तेल नहीं डाला गया। इसके कारण ट्रांसफार्मर कभी भी जल सकता है।

संजय गांधी पथ में एडवोकेट हेमंत सिन्हा के घर के पीछे, अखौरी कॉलोनी शिव ठाकुर के घर के पास के मुहल्लों में पिछले 6 वर्षों से बांस के सहारे बिजली व्‍यवस्‍था टिकी है। कई बार लिखा गया, पर परिणाम ढाक के तीन पात ही रहा।

कोर्ट रोड गौतम नर्सिंग होम के सामने ट्रांसफार्मर को वहां से हटाने की मांग की जा रही है। 8 वर्ष बीत जाने के बाद भी ध्यान नहीं दिया जा रहा है। बाबा मठ के पीछे स्थित मठ कॉलोनी के लोग बांस के सहारे बिजली कनेक्‍शन लिये हुए हैं।

इस हालात को देखते हुए किसी भी बड़ी दुर्घटना से इंकार नहीं किया जा सकता है। जब शहरी क्षेत्र की यह स्थिति है तब अंदाजा लगाया जा सकता है कि ग्रामीण क्षेत्रों में विभाग किस तरह काम करता होगा। विभाग द्वारा लगातार बातों को अनसुना करने के बाद उपायुक्‍त से इसकी शिकायत की गई है। उम्‍मीद है कि आम जनता को राहत मिलेगी।-कवलजीत सिंह, संयोजक, सामाजिक विचार मंच

Leave A Reply

Your email address will not be published.