आज भी हवाई जहाज से रांची पहुंचेंगे झारखंड के 24 मजदूर

0
  • संजय मेहता का घर भेजो अभियान जारी, 94 मजदूर लाए गए घर

दैनिक झारखंड न्‍यूज

हजारीबाग । झारखंड के हजारीबाग जिले के बरही निवासी संजय मेहता ‘घर भेजो अभियान’ चला रहे हैं। इसके के माध्यम से लगातार फ्लाइट से मजदूरों को परिजन सहित लाया जा रहा है। गो एयर की फ्लाइट संख्या जी 8 – 387 से 42 जून की शाम 28 मजदूर रांची पहुंचेंगे। यह अभियान की छठी फ्लाइट है। इसके तहत अब तक 94 मजदूरों को फ्लाइट से झारखंड लाया गया।

22 जून को पहुंचे थे 24 मजदूर

22 जून की शाम को हजारीबाग, कोडरमा, गिरिडीह एवं धनबाद के 24 मजदूरों को गो एयर की फ्लाइट से मुंबई से रांची लाये गये। इन मजदूरों में हजारीबाग चौपारण के 8, कोडरमा मरकच्चो के 8, गिरिडीह बगोदर के 3 और धनबाद भूली के 5 लोग हैं। सभी मजदूरों को रांची एयरपोर्ट पहुंचने पर खाने के पैकेट्स दिए गए। उन्हें बस द्वारा घर भेजा गया।

संजय मेहता

6 जून से शुरू हुआ अभियान

श्री मेहता के द्वारा घर भेजो अभियान की शुरुआत 6 जून से की गयी। इसके पहले चरण में 6 और 7 जून को 44 मजदूरों को इंडिगो एयरलाइंस से रांची लाया गया। अभियान के दूसरे चरण की शुरुआत 16 जून से हुइ्र। इसमें 16, 20, एवं 22 जून को 50 मजदूरों को झारखंड लाया गया। 24 जून को भी 28 मजदूरों को रांची लाया गया।

दो राज्यों के मजदूर लाये गये

16 जून को उड़ीसा के राउरकेला के पांच मजदूरों को भी झारखंड लाया गया, जिन्हें निजी वाहन से राउरकेला भेजा गया। 6, 7,16, 20 एवं 22 जून को लाए गए मजदूर हजारीबाग जिले के बरही, चौपारण एवं बरकट्ठा प्रखंड, कोडरमा जिले के मरकच्चो और डोमचांच प्रखंड, दुमका जिले के जरमुंडी प्रखंड, गुमला के जारी प्रखंड एवं सिमडेगा के बानो प्रखंड के निवासी हैं। इस प्रकार दो राज्यों के आठ जिलों के 94 मजदूरों को अब तक घर लाया जा चुका है।

29 मार्च से चला रहे हेल्पलाइन

श्री मेहता लॉकडाउन लगने के बाद 29 मार्च से एक हेल्पलाइन चला रहे हैं, जिसमें मजदूरों ने घर आने की इच्छा जतायी थी। इसके बाद फ्लाइट द्वारा मजदूरों को निःशुल्क घर लाने की व्यवस्था की गयी। यह प्रयास निरंतर जारी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.