झारखंड की तान्या को यूपीएससी की परीक्षा में मिला 237वां रैंक

0

योगेश कुमार पांडेय

गिरिडीह । झारखंड की तान्‍या को यूपीएससी में 273वां रैंक मिला है। वह गिरिडीह जिले के जमुआ अंतर्गत बेलकुंडी गांव की रहने वाली है। परीक्षा में सफलता प्राप्‍त कर उसने गिरिडीह का भी मान बढ़ाया है। उसकी इस सफलता पर पूरा परिवार खुश है। उसके पिता बसंत कुमार सिन्‍हा रेलवे में टीटी है। वर्तमान में जसीडीह में पदस्‍थापित हैं।

परिवार के लोगों के अनुसार तान्या का जन्म रांची स्थित लोवाडीह में हुआ था। बचपन से ही वह पढ़ाई में भी मेधावी रही। वर्ष 2010 में देवघर के जसीडीह स्थित संत फ्रांसिस स्कूल से 95 फीसद अंक लाकर उसने 10वीं की परीक्षा पास की। रांची के डीएवी श्यामली से की 12वीं की पढ़ाई उसने विज्ञान संकाय से पूरी की। जहां उसे 88.5 फीसद अंक मिले थे। कम्प्यूटर साइंस में दिलचस्पी रखने वाली तान्या ने बीटेक देवघर स्थित बीआइटी मेसरा में की। वर्ष 2016 में बीटेक की पढ़ाई पूरी करने के बाद उसने 2017 में हरियाणा के गुड़गांव की एक कंपनी में बतौर कंप्यूटर इंजीनियर नौकरी कर ली।

अधिकारी बनकर देश की सेवा करने का जुनून उसमें शुरू से ही था। इस लक्ष्य को पाने के लिए वह नौकरी में रहते हुए भी यूपीएससी की तैयारी करती रही। तान्या के पिता बसंत कुमार सिन्हा और माता रूपकला सिन्हा ने बताया कि बेटी की सफलता को लेकर घर में खुशी का माहौल है। तान्या के परिवार में दादा मुरलीधर प्रसाद, बड़े पापा प्रभात कुमार सिन्हा, बड़ी मम्मी उषा सिन्हा, मझले पापा दीपक कुमार सिन्हा, मझली मम्मी कंचन, छोटे पापा संत कुमार सिन्हा व छोटी मम्मी सविता सिन्हा बेटी की सफलता पर खुशियां मनाने में जुटे हुए हैं। तान्या के बड़े पापा और मझले पापा सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया व झारखंड ग्रामीण बैंक में प्रबंधक रहे हैं।

उसके छोटे पापा झारखंड सरकार में राजस्व कर्मी के पद पर कार्यरत हैं। अंतरराष्ट्रीय कायस्थ परिवार के गिरिडीह जिला युवा संगठन मंत्री कुणाल सिन्हा ने तान्या सिन्हा को बधाई देते हुए कहा कि उसने पूरे कायस्थ परिवार का मान बढ़ाया हैं। उन्होंने कहा कि परिश्रम कभी भी व्यर्थ नहीं जाता है। अंतरर्राष्ट्रीय कायस्थ परिवार के  नितेश कुमार, आशीष सिन्हा, अमित सिन्हा, परिणय सिन्हा,  नीरज कुमार, पुष्कर सिन्हा, साहिल सहाय, प्रशांत कुमार, शुभम दाराद,  शुभम सौरभ, रोहित कुमार, प्रेमदीप, संजीव ने बधाई दी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.