जनप्रतिनिधियों ने नहीं सुनी गुहार, समाजसेवी की मदद से ग्रामीणों ने की सड़क की मरम्मत

0

दैनिक झारखंड न्‍यूज

गिरिडीह । भूतपूर्व स्वतंत्रता सेनानी और एकीकृत बिहार सरकार में तीन बार कैबिनेट मंत्री रहे स्व. सदानंद प्रसाद की जन्म और कर्मस्थली रही ऐतिहासिक ग्राम पंचायत पोबी हर स्तर पर उपेक्षित है। खासकर सड़क के मामले में तो स्थिति बेहद ही बदतर है। तिनकोनिया मोड़ से लेकर धुरैता सिमाना तक 5 किलोमीटर सड़क में बड़े-बड़े गढ्ढे बन गये हैं। बरसाती पानी भर गया है। वाहन तो दूर पैदल भी चलना मुश्किल हो गया है। आये दिन लोग दुर्घटना का शिकार होते रहते हैं। लोगों की गुहार जनप्रतिनिधियों ने नहीं सुनी।

इसके बाद युवा समाजसेवी योगेश कुमार पांडेय ने देवरी प्रखंड के बक्को मानिकबाद निवासी सह समाजसेवी पवन बिहारी यादव को समस्या बताई। निराकरण का आग्रह किया। दिल्ली में निजी कार्य में व्‍यस्‍त होने के बावजूद श्री यादव ने 25 अगस्‍त को उनके सहयोगी पत्रकार विनय कुमार पंडित की अगुवानी में दो हाईवा पत्थर डस्ट उपलब्ध कराया। योगेश कुमार पाण्डेय के नेतृत्व में ग्रामीण जागेश्वर राम जागो, पिंकु राम, विजय राम, ओमप्रकाश राम, प्रदीप राम, सुखदेव राम, श्यामदेव राम, नीरज चंद्रवंशी, राजा कुमार राम आदि गुहिया आहार के पास डस्ट को भरकर सड़क की मरम्मत की।

श्री पांडेय ने कहा पवन बिहारी यादव जनप्रतिनिधियों से बेहतर हैं। वे समस्या के निराकरण की दिशा में हर संभव तत्पर रहते हैं। ग्रामीणों ने सड़क मरम्मत के लिए समाजसेवी पवन बिहारी, योगेश पाण्डेय के प्रति आभार जताया। बता दें कि‍ पवन बिहारी यादव सामाजिक कार्यो में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.