जीव-जंतु के संरक्षण के बगैर मानव सुरक्षित नहीं

0
  • जैव विविधता संरचना पर कार्यशाला

दैनिक झारखंड न्‍यूज

गिरिडीह । जिले के जमुआ प्रखंड के ग्राम पोबी पंचायत सचिवालय प्रज्ञा केंद्र भवन में जैव विविधता प्रबंधन समिति के तत्वावधान में मंगलवार को जैव विविधता संरचना को विषय पर कार्यशाला हुई। मुखिया नकुल कुमार पासवान, पंचायत समिति सदस्य सीतिया देवी ने इसका उदघाटन किया। अध्यक्षता करते हुए मुखिया श्री पासवान ने कहा वैश्वीकरण के कारण वातावरण प्रदूषित हो गया है, जिसके जद में आकर अनेकों प्रजाति के जीव-जंतु, वनस्पतिया बिलुप्त हो गये हैं। शेष विलुप्ति के कगार पर हैं। इनके संरक्षण के बगैर मानव जीवन का अस्तित्व सुरक्षित नहीं रह सकता है।

पंसस सीतिया देवी ने कहा कि संतुलन के लिए जीव जंतुओं का होना अतिआवश्यक है। इनसे पारिस्थिकी कायम रहती है। जैव विविधता प्रबंधन समिति के प्रखंड सचिव योगेश कुमार पाण्डेय ने मंच संचालन करते हुए जैव विविधता की विस्तृत जानकारी दी। उन्‍होंने कहा कि बेतहाशा वन को उजाड़ा जा रहा है। जीव-जन्तु नष्ट हो रहे हैं। अवैध तरीके से पत्थर का व्‍यापक पैमाने पर खनन किया जा रहा है, जिससे जलस्तर बहुत नीचे चला गया है। वर्षा का पानी बह जाता है। जलसंचयन नहीं हो पा रहा है, जिसके कारण जलस्‍तर रिचार्ज नहीं हो पा रहा है। जलसंचयन और पौधारोपण सभी का सामूहिक दायित्व है। जल शक्ति अभियान के तहत विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन पोबी में किया जा रहा है।

पंचायत सचिव सत्यनारायण यादव, ग्राम रोजगार सेवक वंशीधर पाठक, पंचायत स्वयंसेवक दिलीप कुमार राम, जलसहिया स्मिता सिन्हा, पीएलवी सुबोध कुमार साव, वार्ड सदस्य दिलीप कुमार पासवान, अनिल गोस्वामी, मो इफ्तेखार आलम, सुरेन्द्र राणा, योगेश कुमार पाण्डेय आदि ने भी विचार रखें। उक्त अवसर पर अंजू देवी, मुनी देवी, लक्ष्मी देवी, विनीता प्रियदर्शिनी, मोहन तुरी, मोहन दास सहित अन्य मौजूद थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.