स्‍वतंत्रता सेनानी शहीद मंगल पांडेय की जयंती मनाई

0

दैनिक झारखंड न्‍यूज

गिरिडीह । जिले के जमुआ प्रखंड के प्रोजेक्ट कन्या उच्च विद्यालय मिर्जागंज में स्वंतत्रता संग्राम का प्रथम बिगुल फुकने वाले शहीद मंगल पाण्डेय की जयंती मनाई गई। अध्यक्षता प्राचार्य जयप्रकाश राय और संचालन पीएलबी सुबोध कुमार साव ने किया। तस्वीर पर माल्यार्पण और दीप प्रज्वलित कर उन्‍हें भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी गई।

बैंक ऑफ इंडिया जमुआ बीसी योगेश कुमार पाण्डेय ने उनकी जीवनी पर प्रकाश डाला। कहा कि अपनी हिम्मत और हौसले के दम पर समूची अंग्रेजी हुकूमत के सामने पहली चुनौती पेश करने वाले मंगल पांडे का जन्‍म 19 जुलाई 1827 को हुआ था।

मंगल पांडे का नाम ‘भारतीय स्वाधीनता संग्राम’ में अग्रणी योद्धाओं के रूप में लिया जाता है, जिनके द्वारा भड़काई गई क्रांति की ज्वाला से अंग्रेज ईस्ट इंडिया कंपनी का शासन बुरी तरह हिल गया था। मंगल पांडे की शहादत ने भारत में पहली क्रांति के बीज बोये थे।

“मारो फिरंगी को” नारा भारत की स्वाधीनता के लिए सर्वप्रथम आवाज उठाने वाले क्रांतिकारी मंगल पांडे की जुबां से निकला था। उन्‍हें आजादी का पहला क्रांतिकारी माना जाता है। गुलाम जनता और सैनिकों के दिल में क्रांति की जल रही आग को धधकाने के लिए और लड़कर आजादी लेने की इच्छा को दर्शाने के लिए यह नारा मंगल पांडेय ने दिया था। सुबोध कुमार साव, सज्जन कुमार, जयप्रकाश राय, श्‍वेता कुमारी, प्रीति कुमारी, श्रुति कुमारी आदि ने विचार रखें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.