ग्रामीणों के सहयोग से हुआ मंदिर का जीर्णोंद्धार, अब भगवान का इंतजार

0

विवेक चौबे

गढ़वा । ग्रामीणों के सहयोग से जर्जर मंदिर का जीर्णोंद्धार किया गया। अब श्रद्धालु यहां विराजे भगवान का इंतजार कर रहे हैं। चोरी गई मूर्ति को पुलिस अब तक बरामद नहीं कर सकी है। इससे स्‍थानीय निवासियों में आक्रोश है।

300 साल पुराना मंदिर

जिले के कांडी प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत खरौंधा में स्थित विजय राघव मंदिर 300 साल पुराना है। इसे धरोहर के रूप में जाना जाता है। यह जर्जर स्थिति में थी। उक्त मंदिर के जीर्णोद्धार के लिए स्‍थानीय लोगों ने पहल की। मुखिया प्रतिनिधि मुन्ना ठाकुर के नेतृत्व में एक कमेटी गठित कर ग्रामीणों के सहयोग से मंदिर का जीर्णोद्धार पूर्ण हुआ। श्री ठाकुर ने बताया कि इस मंदिर के जीर्णोद्धार में उन्‍होंने अपनी जेब से 5 लाख रुपए का सहयोग किया। इस मंदिर की बाउंड्री कराने, नई मूर्तियों को लाकर शुभ मुहूर्त में स्थापित करने सहित अन्य कई कार्य भी शेष रह गए हैं।

प्राचीन द्वार अब भी बरकरार

खास बात यह कि मंदिर के आगे प्राचीन द्वार आज भी बरकरार है, जिसका निर्माण कराना अ‍ब असम्भव है। इस द्वार में कलाकारी के सभी गुण विद्यमान हैं। इस द्वार की भी मरम्मत कराकर रंगरोहन कर सुंदर बनाया जाएगा। कोरोना काल को देखते हुए जीर्णोद्धार के लिए गठित कमेटी के सदस्य और सहयोगीकर्ता सामाजिक दूरी का पालन करते हुए मास्क लगाकर उपस्थित थे।

करीब 14 माह पहले चोरी

करीब 14 माह पूर्व इस मंदिर से अष्टधातु से निर्मित बेशकीमती तीन मूर्तियों को अज्ञात चोरों द्वारा चोरी कर ली गयी थी। ये मूर्तियां राम, लक्ष्मण व जानकी की थी। पुलिस अब तक मूर्तियों को ढूंढ निकालने में असफल रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.