दूसरे राज्यों से सटे सीमावर्ती क्षेत्रों के चेक पोस्ट पर नजर रखेगी तीसरी आंख

0

उपेंद्र गुप्‍ता

दुमका । दूसरे राज्‍यों से सटे जिले के सीमावर्ती क्षेत्रों के चेक पोस्‍ट पर तीसरी आंख (सीसीटीवी) से नजर रखा जाएगा। बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों को बिना पास के प्रवेश नहीं करने दि‍या जाएगा। चेक पोस्ट से उन्‍हें वापस भेज दि‍या जाएगा। यह निर्देश उपायुक्त राजेश्वरी बी ने दिया। वे 22 जुलाई को जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक कर रही थी। इसमें कोविड-19 के बढ़ते प्रसार की रोकथाम और भविष्य में की जानेवाली तैयारियों की चर्चा की गई।

कोरोना के बढ़ते प्रसार को देखते हुए उपायुक्त द्वारा कोविड अस्पतालों एवं क्‍वारंटाइन सेंटर में समुचित व्यवस्था का आदेश दिया गया। उन्होंने कहा कि मैनपावर और सभी जरूरी सर्विसेस पहले की तरह ही उपलब्ध कराते रहे। मरीजों के लिए बिस्तर, बिजली की सुविधा, सुरक्षा आदि को लेकर भी आवश्यक निर्देश दिये गये। उन्होंने सिविल सर्जन को हर दिन 100℅ सैंपल कलेक्शन करने के लिए कहा।

उपायुक्‍त ने कहा कि आपदा प्रबंधन अधिनियम पालन नहीं करने वाले जिले मॉल, प्रतिष्ठान, संस्थान, इंडस्ट्रीज, होटल, दुकान आदि पर कार्रवाई करें। बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों को बिना पास के प्रवेश नहीं करने दें। चेक पोस्ट से वापस भेज दे। दूसरे राज्यों से सटे सीमावर्ती क्षेत्रों के चेक पोस्ट पर सीसीटीवी से निगरानी रखें। उन्होंने सभी चेक पोस्ट पर लाइटिंग की बेहतर व्यवस्था करने का आदेश दिया। उपायुक्त ने बताया कि जल्द ही दुमका में कोरोना टेस्टिंग लैब बनकर तैयार होगा।

उपायुक्त ने कहा कि कोविड-19 से उत्पन्न परिस्थिति को देखते हुए सुरक्षा की दृष्टिकोण से साफ सफाई का ख्याल रखें। सावधानी और सतर्कता के साथ-साथ मास्क का उपयोग करें। सामाजिक दूरी का पालन आवश्यक रूप से करें, ताकि कोरोना के प्रसार को रोका जा सके। बैठक में पुलिस अधीक्षक अंबर लकड़ा, जिला परिषद अध्यक्ष जोएस बेसरा, उप विकास आयुक्त डॉ संजय सिंह, अनुमंडल पदाधिकारी महेश्वर महतो, सिविल सर्जन डॉ अनंत झा एवं अन्य वरीय पदाधिकारी उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.