बासुकी भोग प्रसादम श्रद्धालुओं के लिए उपलब्ध, सीएम पहले ग्राहक बनें

0

दैनिक झारखंड न्‍यूज

दुमका । मुख्‍यमंत्री रघुवर दास ने सावन के पहले दिन वासुकिनाथधाम में श्रावणी मेला का शुभारंभ किया। उन्‍होंने कहा कि श्रावणी मेला का शुभारंभ करते हुए महादेव से याचना करता हूं कि वे राज्य के लोगों की आकांक्षाओं और आशाओं को पूर्ण करें। यह सिर्फ श्रावणी मेला ही नहीं बल्कि मेलजोल का माध्यम भी है, क्योंकि मेला मिठास से भरा होता है। मेला जैसे आयोजन से हम श्रेष्ठ भारत की परिकल्पना को यथार्थ में परिवर्तित कर सकते हैं।

शिवगंगा का सौंदर्यीकरण प्राथमिकता में

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार संथालपरगना के पर्यटन स्थल के सौंदर्यीकरण के लिए काम कर रही है। देवघर में एयरपोर्ट, एम्स का निर्माण कार्य हो रहा है। 20 करोड़ की प्रसाद योजना दुमका को मिलेगा। यह केंद्र सरकार को प्रस्तावित है। शिवगंगा के सौंदर्यीकरण की पहल हो चुकी है। जल्द इसके जीर्णोद्धार का काम होगा। पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने के उद्देश्य से तारापीठ-मयूराक्षी-वासुकिनाथधाम-देवघर को पर्यटन सर्किट के रूप में विकसित किया जाएगा।

स्वच्छता अपनाएं, नहीं तो दंड के भागी

मुख्यमंत्री ने कहा कि दुमका और देवघर श्रावणी मेला में स्वच्छता के क्षेत्र में अपनी पहचान स्थापित करे, इस दिशा में काम करना है। इस पवित्र स्थल को स्वच्छ रखना सिर्फ सरकार की जिम्मेवारी नहीं, बल्कि सभी की है। वासुकिनाथधाम में दुकानदार इस काम में सहयोग करें। अन्यथा उनपर दंड का प्रावधान सुनिश्चित किया जाएगा। आपको यह समझने की जरूरत है कि जब श्रद्धालु यहां से जाएं तो स्वच्छता की तारीफ अवश्य करें ।

परेशानी होने पर सीधा संपर्क करे

मुख्यमंत्री ने श्रावणी मेला में आने वाले श्रद्धालुओं को यह संदेश दिया है कि यदि किसी भी तरह की परेशानी या समस्या आए, तो सीधे मुझसे सोशल मीडिया के माध्यम से संपर्क कर सकते हैं। अपनी बात मेरे ट्विटर हैंडल @dasraghubar या मेरे फेसबुक पेज Raghubar Das पर भेजें। देवतुल्य श्रद्धालुओं की समस्या का तुरंत समाधान किया जाएगा। उन्हें सूचित भी किया जाएगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.