पश्चिम बंगाल : टीएमसी को बड़ा झटका, कई विधायक और पार्षद भाजपा से जुड़े

0

दैनिक झारखंड न्यूज

नई दिल्ली । पश्चिम बंगाल में  टीएमसी को बड़ा झटका लगा है। कई विधायक और पार्षद भाजपा से जुड़ गए हैं।भारतीय जनता पार्टी की बड़ी जीत के बाद मुकुल रॉय के बेटे शुभ्रांशु रॉय सहित तीन विधायक बीजेपी में शामिल हो गए। इनमें दो टीएमसी, जबकि एक माकपा का विधायक शामिल है। शुभ्रांशु रॉय के अलावा ये दोनों विधायक शिलभद्र दत्त और सुनील सिंह हैं। इन 3 नेताओं के अलावा प्रदेश के अलग-अलग क्षेत्रों से करीब 50 पार्षद भी दिल्ली में बीजेपी में शामिल हो गए।

बीजेपी का दामन थामने वाले ये पार्षद 24 परगना जिले के कंचरापारा, हलिशहर और नैहाती नगर पालिका के हैं। इसके साथ बीजेपी का भाटपारा नगरपालिका पर कब्जा हो जाएगा। बीजेपी के नवनिर्वाचित सांसद अर्जुन सिंह भाटपारा नगरपालिका के अध्यक्ष हैं।

बीजेपी के नवनिर्वाचित सांसद अर्जुन सिंह ने कहा कि अब उनकी पार्टी का भाटपारा नगरपालिका पर कब्जा होगा। अर्जुन सिंह भाटपारा नगरपालिका के अध्यक्ष हैं। इस बार लोकसभा चुनाव में बंगाल में बीजेपी ने बड़ी जीत हासिल की है और 2014 में मात्र 2 सीटों पर सिमटी बीजेपी इस बार 18 सीटें जीत कर आई है। इस जीत में मुकुल रॉय की बड़ी भूमिका है। रॉय पूर्व में टीएमसी के कद्दावर नेता रहे हैं, जो बाद में बीजेपी में शामिल हो गए। इनकी रणनीतियों ने बीजेपी को बड़ी कामयाबी दिलाने में बड़ा योगदान दिया है।

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस लोकसभा चुनाव में बीजेपी के साथ घमासान के बावजूद 22 सीटें जीतकर अपनी इज्जत बरकरार रखी। बीजेपी को 18 और कांग्रेस को दो सीटें मिली हैं। बीजेपी की इस जीत में मुकुल रॉय और बंगाल बीजेपी के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय का बड़ा रोल है। इस चुनाव में बीजेपी के लिए जबरदस्त नतीजे पश्चिम बंगाल से आए, जहां उसने ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस के पसीने छुड़ा दिए। आठ साल से सत्तारूढ़ तृणमूल को अमित शाह के नेतृत्व वाली बीजेपी ने सबसे बड़ा उलटफेर दिखाया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.