नए साल का कुल योग 5, अंक ज्योतिष के हिसाब से जानिए कैसा रहेगा आने वाला समय

0

दैनिक झारखंड न्यूज

नई दिल्ली । साल 2020 खत्म हो रहा है और हर किसी को नए साल का इंतजार है। नए साल से सभी को बड़ी उम्मीदे हैं। हर कोई नई शुरुआत करना चाहता है। लोग अंकशास्त्र का रुख भी कर रहे हैं। अंक ज्योतिष अंकों के माध्यम से भविष्य ज्ञात करने वाली एक प्राचीन विधा है| इस गूढ़ विद्या के जरिये किसी भी व्यक्ति के करियर, आर्थिक स्थिति, स्वास्थ्य से लेकर पारिवारिक परिस्थितयों सहित जीवन में घटने वाली तमाम घटनाओं के बारे में पता लगाया जाता है।

अंक ज्योतिषी विजय कुड़ी के अनुसार, वर्ष 2021 का कुल योग 5 (2+0+2+1= 5) है और अंक ज्योतिष के अनुसार अंक 5 का सम्बन्ध नवीनता, उन्मुक्त जीवन, परिवर्तन, यात्राओं और नए लोगों से मुलाकातों से है। अतः वृहद परिप्रेक्ष्य में देखा जाए तो वर्ष 2021 में लोग अपने जीवन में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए तुलनात्मक रूप से ज्यादा उत्साहित रहेंगे।

महामारी से उबरते हुए पूरी दुनिया एक बार फिर पटरी पर लौट सकती है

कोरोना महामारी से उबरते हुए भारत ही नहीं, पूरी दुनिया नई शुरुआत करेगी। बता दें, कोरोना वैक्सीन की आस जगी है और यदि साल के शुरुआत में वैक्सीन सफलतापूर्वक कारगर साबित होती है तो यह दुनियाभर के सबसे बड़ी खुशी की बात होगी। कोरोना महामारी से उबरते हुए पूरी दुनिया एक बार फिर पटरी पर लौट सकती है। कामधंधे सामान्य होने से एक बड़ी आबादी को राहत मिलेगी।

अंक ज्योतिषी विजय कुड़ी बताते हैं कि प्रत्येक व्यक्ति के लिए अंक भविष्यफल उसके मूलांक पर आधारित होता है जो कि उसकी जन्म तिथि के जरिये ज्ञात किया जाता है। अंक ज्योतिष में 1 से लेकर 9 तक सभी अंक किसी एक ग्रह विशेष का प्रतिनिधित्व करते हैं। ऐसे में आपके भाग्य का आकलन करने के लिए आपके मूलांक से सम्बंधित ग्रह का आप पर पड़ने वाले सकारात्मक व नकारात्मक प्रभावों का अध्ययन किया जाता है। इसी आधार पर भविष्यफल बताया जाता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.