नए साल में झारखंड कांग्रेस नेतृत्व में हो सकता है बदलाव, हटाये जा सकते हैं एक मंत्री

0

दैनिक झारखंड न्यूज

रांची झारखंड प्रदेश कांग्रेस में नए साल में बदलाव देखने को मिल सकता है। एक तरफ जहां प्रदेश नेतृत्व बदला जा सकता है, वहीं कांग्रेस कोटे के एक या दो मंत्री भी बदले जा सकते हैं। केंद्रीय आलाकमान इस पर मंथन कर रहा है। कांग्रेस कोटे के चार मंत्रियों के पिछले 1 साल के काम की समीक्षा की जा रही है, उसके आधार पर आलाकमान निर्णय लेगा।

मंत्रियों द्वारा जनता के हित में किए गए विभागीय काम-काज के साथ-साथ विधायकों को पार्टी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के लिए किए गए कामों की समीक्षा की जा रही है। पार्टी में समय-समय पर मंत्रियों के फोन नहीं उठाने, विधायकों समेत कार्यकर्ताओं को नजरअंदाज करने के मामले उठते रहे हैं। आलाकमान यह भी देख रहा है कि चुनावी घोषणा पत्र में जो कुछ वादे किए गए थे, विभाग मिलने के बाद उसे कहां तक पूरा किया गया। डॉ रामेश्वर उरांव प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के साथ-साथ राज्य सरकार में वित्त वा खाद्य आपूर्ति मंत्री है। विभागों के साथ-साथ पार्टी संगठन का भी काम देख रहे हैं। पिछले महीने में संक्रमित हो गए थे, जिसका असर उनके स्वास्थ्य पर पड़ रहा है। ऐसे में आलाकमान संगठन के नेतृत्व के काम से भी उनको मुक्त रखा जा सकता है ताकि उन पर कम दबाव रहे।

महिलाओं की दिख सकती है ताकत

प्रदेश कांग्रेस नेतृत्व के साथ-साथ झारखंड सरकार के कैबिनेट में कांग्रेस की महिलाओं का प्रतिनिधि बढ़ सकता है। प्रदेश अध्यक्ष के लिए एक सांसद, विधायक और पूर्व मंत्री रेस में है। आलाकमान पार्टी में वैसे चेहरे को भी कमान दे सकता है, जो आदिवासी क्षेत्र से हो और वर्तमान में सांसद या विधायक ना हो। ताकि वह पार्टी व संगठन पर ज्यादा ध्यान केंद्रित कर सके। वहीं, कांग्रेस कोटे के एक या दो मंत्री के हटने पर महिला विधायकों को मौका मिल सकता है।

उत्तरी छोटानागपुर से कैबिनेट में कांग्रेस की ओर से कोई प्रतिनिधि नहीं है, जबकि एक मंत्री के हटने पर संथाल से भी एक कांग्रेस विधायक को मौका मिल सकता है। झारखंड सरकार में मंत्री हाजी हुसैन अंसारी के निधन और मंत्री जगन्नाथ महतो के अस्वस्थ होने के बाद झामुमो कोटे के दो मंत्री के पद खाली हैं। जबकि सरकार के एक मंत्री का पद अब तक शपथ ग्रहण नहीं हो सका है। एक पद पर शुरू से कांग्रेस दावा करती रही है ऐसे में नए साल में खरमास खत्म होने के बाद कैबिनेट विस्तार भी होने की संभावना भी दिख रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.