संतोष गंगवार ने प्रोटेम स्पीकर बनाने को किया खारिज, जाने क्या है कारण

0

दैनिक झारखंड न्यूज

बरेली । बरेली सांसद संतोष गंगवार के तर्क ने उनके प्रोटेम स्पीकर की चर्चा काे विराम लगा दिया है। उन्होंने कहा कि मुझे मंत्री बनाने के लिए कॉल आया है। यदि मैं मंत्री बन रहा हूं तो इसके बाद मैं प्रोटेम स्पीकर नहीं बन सकता हूंं। आपको बताते जाए कि ऐसी चर्चा थी कि भाजपा इस बार संतोष गंगवार को प्रोटेम स्पीकर पद दे सकती है जो नए सांसदों को शपथ दिलाएंगे।

आठवीं बार सांसद चुन गए हैं

सबसे वरिष्ठ सांसदों में से एक हैं। वे आठवीं बार सांसद चुन गए हैं। मोदी सरकार के प्रथम कार्यकाल में संतोष गंगवार वित्त राज्य मंत्री हैं। इससे पूर्व वे केंद्र सरकार में कपड़ा राज्य मंत्री थे। संतोष गंगवार पहले भी अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में पेट्रोलियम राज्यमंत्री रह चुके हैं।

गंगवार का जन्म 1 नवम्बर 1948 को उत्तर प्रदेश के बरेली में हुआ था। उनकी उच्च शिक्षा आगरा विश्वविद्यालय और रुहेलखंड विश्वविद्यालय से हुई। जहां से उन्होंने बीएससी और एलएलबी की डिग्री प्राप्त की। पढ़ाई के दौरान वह छात्र राजनीति से जुड़े रहे। इंदिरा गांधी की ओर से लगाई गयी इमरजेंसी के दौरान उनको जेल भी जाना पड़ा था। वे 1996 में उत्तर प्रदेश भाजपा इकाई के महासचिव बनाए गए थे।

वाजपेयी सरकार में पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस राज्य मंत्री रह चुके हैं

इसके अलावा उत्तर प्रदेश में पार्टी इकाई के कार्य समिति के सदस्य भी रह चुके हैं। 13वीं लोकसभा में अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व में बनी सरकार में वह पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस राज्य मंत्री के साथ-साथ संसदीय कार्य राज्य मंत्री का पदभार भी संभाल चुके हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.