गणतंत्र दिवस के मुख्‍य अतिथि होंगे ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन, स्‍वीकार किया निमंत्रण

0

दैनिक झारखंड न्यूज

नई दिल्ली । गणतंत्र दिवस 2021 को मुख्‍य अतिथि के तौर पर भारत के निमंत्रण को ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) ने स्‍वीकार कर लिया। ब्रिटेन के विदेश मंत्री डॉमिनिक राब (Dominic Raab) ने मंगलवार को यह जानकारी दी। इस ऐलान के बाद राब ने यह भी कहा  कि ब्रिटेन भारत के साथ अपने आर्थिक संबंधों को मजबूत बनाने की चाहत रखता है। दरअसल, आज विदेश मंत्री एस जयशंकर और डॉमिनिक राब के बीच एक मीटिंग हुई। मीटिंग के बाद  विदेश मंत्री जयशंकर ने कहा, ‘आतंक और कट्टरवाद की चुनौतियों के मुद्दे पर हमने चर्चा की, जो दोनों देशों के लिए अहम है। हमने अफगानिस्‍तान, खाड़ी व हिंद प्रशांत क्षेत्र के हालातों पर भी चर्चा की।’

विदेश सचिव डॉमिनिक राब ने कहा, ‘मुझे इस बात की खुशी है कि प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने अगले साल होने वाले G7 समिट के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निमंत्रण दिया है। पीएम जॉनसन ने भी भारत की ओर से गणतंत्र दिवस में मुख्‍य अतिथि का निमंत्रण स्‍वीकार कर लिया है।’

यह दोनों देशों के बीच संबंध के नए युग की शुरुआत का प्रतीक होगा

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा़, ‘यह दोनों देशों के बीच संबंध के नए युग की शुरुआत का प्रतीक होगा।’ 14 से 17 दिसंबर तक ब्रिटेन के विदेश मंत्री डोमिनिक राब भारत में हैं। उनसे विदेश मंत्री एस जयशंकर ने मुलाकात की। इस मुलाकात में दोनों के बीच व्यापार, रक्षा, शिक्षा, पर्यावरण और स्वास्थ्य जैसे क्षेत्रों में द्विपक्षीय सहयोग बढ़ाने को लेकर वार्ता हुई। बता दें कि विदेश मंत्रियों की मुलाकात के बाद शिष्टमंडल स्तर की भी वार्ता हुई। राब ऐसे समय में भारत यात्रा पर यहां आएं हैं, जब ब्रिटेन ब्रेक्जिट के बाद व्यापार समझौता करने के लिए यूरोपीय संघ के साथ जटिल वार्ता कर रहा है।

विदेश मंत्री जयशंकर ने बैठक के बाद बताया, ‘हमने अफगानिस्तान के हालात और खाड़ी देशों एवं हिंद-प्रशांत क्षेत्र संबंधी गतिविधियों की समीक्षा की।’ जयशंकर ने कहा, ‘आतंकवाद और कट्टरवाद के कारण पैदा हुई चुनौतियों पर चर्चा की गई, जो साझा चिंताएं हैं।’ उन्होंने कहा कि कोविड-19 के बाद आर्थिक सुधार की गति तेज करने के लिए भारत-ब्रिटेन के बीच गठजोड़ महत्वपूर्ण है। वहीं, ब्रिटेन के विदेश मंत्री डोमिनिक राब ने कहा, ‘हम भारत के साथ आर्थिक संबंध मजबूत करना चाहते है।’

Leave A Reply

Your email address will not be published.