रांची के व्यवसायी से PLFI ने मांगी एक करोड़ की रंगदारी, नहीं देने पर फौजी कार्रवाई की धमकी दी

0

दैनिक झारखंड न्यूज

रांची रांची में पीएलएफआइ लगातार पुलिस को चुनौती देकर रंगदारी मांग रहा है। इस बार ङ्क्षहदपीढ़ी के रहने वाले एक व्यवसायी से पीएलएफआइ के नाम पर एक करोड़ रुपये रंगदारी मांगी गई है। वाट््सएप के वर्चुअल नंबर से कॉल कर यह रंगदारी मांगी गई है। रंगदारी नहीं देने पर जान से मारने की धमकी दी गई है। यह भी कहा गया कि उनके बारे में सारी जानकारियां हैं। इसलिए राशि की व्यवस्था जल्द करें।

इस धमकी के बाद व्यवसायी का पूरा परिवार दहशत में है। इस संबंध में व्यवसायी ने मौखिक रूप से लोअर बाजार थाने को इसकी जानकारी दी है। व्यवसायी ने पुलिस को बताया है कि उन्हें 16 दिसंबर को एक व्यक्ति ने फोन किया। उसने खुद को पीएलएफआइ का सरदारजी बताया। कहा कि उन्हें पर्चा भेजा गया है, जिसमें एक करोड़ रुपये की सहयोग राशि उन्हें देनी होगी। व्यवसायी ने इसकी सूचना पुलिस को फोन के माध्यम से दी है। शनिवार को मामले में एफआइआर दर्ज कराएंगे।

दुकान जलाने की धमकी

व्यवसायी को पीएलएफआइ के नाम से सरदार जी ने फोन किया था। धमकी दी कि अगर राशि नहीं दी तो उनकी तीनों दुकान को जलाकर राख कर दिया जाएगा। इसकी जिम्मेवारी उसकी खुद की होगी। वैसे तुम्हें जहां जाना है जा सकते हो। कोई फर्क नहीं पड़ता है। राशि तो तुम्हे देनी ही होगी। पीएलएफआइ के लेटर पैड पर सरदार जी के नाम से व्यवसायी को पर्चा भेजा गया है। जिसमें कहा गया है कि संगठन को एक करोड़  की सहयोग राशि भेज दो। अन्यथा फौजी कार्रवाई की जाएगी।

हाल के दिनों में रंगदारी की प्रमुख घटनाएं

  • 30 नवंबर से लेकर 5 दिसंबर के बीच अरगोड़ा निवासी व्यवसायी नीतीश शरण से मांगी गई 50 लाख की रंगदारी।
  • 29 नवंबर 2020 को कहां के निवासी अवधेश कुमार यादव से पीएलएफआइ के नाम पर मांगी गई 30 लाख की रंगदारी।
  • 31 अक्टूबर 2020 को वर्चुअल कॉल के माध्यम से रांची के धुर्वा और कोतवाली इलाके में रहने वाले 2 कारोबारियों से 50-50 लाख की रंगदारी मांगी गई।
Leave A Reply

Your email address will not be published.