सुशांत सिंह केस में नया मोड़: अभिनेता को चाय में मिलाकर ड्रग्स देती थी रिया, WhatsApp chat से आशंका

0

दैनिक झारखंड न्यूज

मुंबई। सुशांत सिंह राजपूत डेथ केस में रोज नए खुलासे हो रहे हैं। अब ड्रग्स यानी नशीली दवाओं के एंगल से भी जांच की जा रही है। दरअसल, सुशांत की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती का एक व्हाट्सऐप चैट सामने आने के बाद सवाल उठा है कि क्या रिया चक्रवर्ती खुद भी ड्रग्स लेती थी और चाय में मिलकार सुशांत सिंह को भी देती थी? रिया चक्रवर्ती व्हाट्सऐप चैट में लिख रही है कि एक कप चाय में चार बूंद मिलाओ और उसे पिला दो। वहीं रिया के फोन से पता चला है कि वे ड्रग डीलर गौरव आर्या से भी बात करती थी। हालांकि रिया चक्रवर्ती के वकील ने इन आरोपों का खंडन किया है। वकील का दावा है कि रिया चक्रवर्ती ने कभी ड्रग्स नहीं ली और सीबीआई चाहे तो उनका ब्लड टेस्ट करवा सकती है।

सुशांत मामले में अब मुंबई पुलिस से होगी पूछताछ

सुशांत सिंह राजपूत डेथ केस में सीबीआई की जांच ने तेजी पकड़ ली है। अब सीबीआई मुंबई पुलिस के उन अधिकारियों से पूछताछ करेगी, जो इसकी जांच से जुड़े रहे हैं। CBI ने इसके लिए पुलिस उपायुक्त अभिषेक सिंह, सुशांत सिंह राजपूत मामले के जांच अधिकारी भूषण बेलनेकर और एक सब इंस्पेक्टर को समन भेजा है। हालांकि, CBI की टीम मुंबई पहुंचने के अगले दिन से ही बांद्रा जोन-9 के डीसीपी अभिषेक त्रिमुखे और सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच में शामिल रही पुलिस टीम के संपर्क में है।

CBI को मुंबई पुलिस की जांच में कई खामियां भी हाथ लगी हैं

CBI की एक टीम बांद्रा पुलिस स्टेशन जाकर इन अधिकारियों से सुशांत सिंह राजपूत मामले से जुड़े दस्तावेज लेती और समझती रही है, लेकिन, अभी तक मुंबई पुलिस के अधिकारियों से उसने पूछताछ शुरू नहीं की है। CBI की टीम सुशांत के साथ रहनेवाले या उनसे संबंधित सात लोगों से कई-कई घंटे की पूछताछ कर चुकी है। कूपर अस्पताल में सुशांत का पोस्टमार्टम करनेवाले डॉक्टरों, उनकी मनोचिकित्सा करनेवाले डॉक्टर तथा कार्टर रोड स्थित सुशांत सिंह राजपूत की बिल्डिंग के सुरक्षा गार्ड से भी पूछताछ कर चुकी है। इस पूछताछ के दौरान CBI को मुंबई पुलिस की जांच में कई खामियां भी हाथ लगी हैं।

मुंबई पुलिस 60 दिन से अधिक जांच करने के बावजूद इस मामले में FIR तक दर्ज नहीं कर पाई। अब इन्हीं खामियों को लेकर CBI मुंबई पुलिस से विधिवत पूछताछ करना चाहती है। बता दें कि सर्वोच्च न्यायालय ने सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच CBI को सौंपते समय मुंबई पुलिस को जांच में सहयोग करने का निर्देश भी दिया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.