किसान विरोधी है केंद्र की भाजपा नेतृत्व वाली मोदी सरकार : अयुब खान

0

दैनिक झारखंड न्यूज

लातेहार। देशव्यापी कार्यक्रम के तहत झारखंड राज्य किसान सभा लातेहार ने चंदवा के कामता पंचायत में सभा का आयोजन किया, अध्यक्षता सनिका मुंडा ने की, किसान सभा के जिला अध्यक्ष अयुब खान ने सभा मे शामिल किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि मजदूर विरोधी श्रम संहिता और किसान विरोधी कृषि कानून थोपने के खिलाफ किसान विरोध कर रहे हैं।

केंद्र सरकार अन्नदाता किसान के हित में नहीं

केंद्र सरकार के तीनों कानूनों को भले ही केंद्र सरकार किसान हित में बता रही है लेकिन ये अन्नदाता किसान के हित में नहीं है, बल्कि कॉरपोरेट हाउस के लिए है। उन्होंने आगे कहा कि हाल ही में घोर अलोकतांत्रिक तरीके से जिस तरह नए कृषि कानूनों को पारित किया गया है, उससे साफ है कि केंद्र की भाजपा नेतृत्व वाली नरेंद्र मोदी सरकार को अन्नदाता किसानों की चिंता नहीं है, वे किसान विरोधी हैं।

सभा में झारखंड सरकार से भी मांग की है कि केंद्र सरकार के कृषि विरोधी कानूनों को निष्प्रभावी करने के लिए पंजाब सरकार की तर्ज पर एक कानून बनाने, किसानों की दो लाख रूपए तक की कृषि ऋण माफ करने, किसानों को वन अधिकार कानून के तहत पट्टा देने सहित कई मांगे की गई। साथ ही दिल्ली जंतर – मंतर पर प्रदर्शन करने जा रहे किसानों को रोकने के लिए राज्यों के बॉर्डर में पुलिस द्वारा अन्नदाता किसानों पर शख्ती बरतने, उनपर आंसू गैस के गोले छोड़ने, वॉटर कैनन, पानी की बौछार का इस्तेमाल किए जाने की निंदा की गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.