PM मोदी के मंत्रीपरिषद में इन सांसदों को मिलेगी जगह, फोन से दी जानकारी, झारखंड से अर्जुन मुंडा का नाम!

0

दैनिक झारखंड न्यूज

नई दिल्ली । आज शाम 7 बजे नरेंद्र मोदी राष्ट्रपति भवन में दूसरी बार देश के प्रधानमंत्री के रूप में की शपथ ग्रहण करेंगे। उनके साथ उनकी कैबिनेट के मंत्री भी शपथ लेंगे। जिन लोगों को मोदी की नई कैबिनेट में शामिल किया जा रहा है उनमें कुछ नए चेहरे हैं तो कुछ मोदी के पहले कार्यकाल में भी मंत्री रह चुके हैं।

17वीं लोकसभा के लिए हुए चुनाव में प्रचंड बहुमत से जीतने वाली भाजपा और एनडीए के सांसदों में से आज होने वाले शपथ ग्रहण में 50-60 सांसद मंत्री पद की शपथ ले सकते हैं। जो सांसद शपथ ग्रहण करेंगे उन्हें फोन आने शुरू हो चुके हैं।

इन लोगों को अब तक फोन आया है

जिन लोगों को अब तक फोन आया है उनमें स्मृति ईरानी, राजनाथ सिंह, पीयूष गोयल, आसनसोल से सांसद बाबुल सुप्रीयो, शिरोमणी आकाली दल की नेता हरसिमरत कौर, अर्जुन राम मेघवाल, धर्मेंद्र प्रधान, मुख्तार अब्बास नकवी, सुरेश प्रभु, रविशंकर प्रसाद, रामविलास पासवान, वीके सिंह, निर्मला सीतारमण, नितिन गडकरी, मध्यप्रदेश से सांसद नरेंद्र सिंह तोमर, प्रहलाद पटेल, तेलंगाना के सिकंदराबाद से सांसद जी किशन रेड्डी, जितेंद्र सिंह, संतोष गंगवार, नित्यानंद राय, मनसुख लाल मांडविया, डीवी सदानंद गौड़ा, गिरिराज सिंह, किरण रिजिजू, साध्वी निरंजन ज्योति, पुरुषोत्तम रुपाला, रमेश पोखरियाल निशंक,आरसीपी सिंह (जदयू), सुरेश अंगडी, सोमप्रकाश, रतनलाल कटारिया, गजेंद्र सिंह शेखावत, कैलाश चौधरी के नाम शामिल हैं। हालांकि, अब भी सासंदों को फोन आ रहे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी शाम साढ़े 4 बजे प्रधानमंत्री आवास में शपथ लेने वाले मंत्रियों से मुलाकात करेंगे

शपथ ग्रहण समारोह के लिए सहयोगियों में अब तक लोजपा के राम विलास पासवान, अकाली दल से हरसिमरत कौर बादल, शिव सेना के अरविंद सावंत और रिपब्लिकन पार्टी से रामदास अठावले को भी फोन आए हैं। इससे पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष अमित शाह ने प्रधानमंत्री से मुलाकात की और नई सरकार में शामिल होने वाले सांसदों के नामों पर अंतिम मुहर लगाई। प्रधानमंत्री मोदी शाम साढ़े 4 बजे प्रधानमंत्री आवास में शपथ लेने वाले मंत्रियों से मुलाकात करेंगे। उसके बाद ही नामों की आधिकारिक घोषणा हो सकती है।

शाह को मिल सकता है वित्त मंत्रालय

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने स्वास्थ्य कारणों का हवाला देकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उन्हें नए मंत्रिमंडल में शामिल न करने का आग्रह किया है। गुरुवार को उन्होंने इस संबंध में प्रधानमंत्री को पत्र लिखा। इसके बाद माेदी रात काे 8:50 बजे जेटली के आवास पर मिलने पहुंचे और उनका हालचाल जाना। जेटली की गैर मौजूदगी से वित्त मंत्रालय का प्रभार पीयूष गोयल के पास रहा, लेकिन अब यह जिम्मेदारी भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को सौंपे जाने की चर्चा है।

विदेश मंत्रालय के लिए सीतारमण, गडकरी, स्मृति के नामों की चर्चा

निवर्तमान विदेश मंत्री सुषमा स्वराज भी इस बार चुनाव नहीं लड़ीं। उन्होंने भी मंत्री पद न संभालने की मंशा जाहिर की है। ऐसे में विदेश मंत्री के नाम पर भी संस्पेंस है। सूत्रों के मुताबिक, यह जिम्मेदारी नितिन गडकरी, निर्मला सीतारमण या स्मृति ईरानी को सौंपी जा सकती है।

पुरानी टीम के 5 नाम लगभग तय

गृह मंत्रालय के लिए राजनाथ सिंह का नाम तय माना जा रहा है। उधर, विदेश और रक्षा मंत्रालय के लिए नितिन गडकरी व निर्मला सीतारमण के नाम की चर्चा है। उधर, रेल मंत्रालय के लिए पीयूष गोयल की दावेदारी मजबूत है। स्मृति ईरानी को सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय का जिम्मा सौंपा जा सकता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.