काम दिलाने के बहाने गैंगरेप, वीडियो वायरल करने की धमकी

0

दैनिक झारखंड न्यूज

जमशेदपुर। बागबेड़ा सीपी टोला की युवती से गैंगरेप के बाद आरोपियों के परिवार के लोग अब उसे केस उठा लेने की धमकी मोबाइल पर दे रहे हैं। इसमें आरोपी पप्पू के अलावा सागर दास के परिजन शामिल हैं। कुछ लोगों ने युवती के घर पर पहुंचकर केस उठा लेने की धमकी दी। यह बातें सोमवार को पीड़िता ने कोर्ट में दिए बयान में बताईं।

वीडियो वायरल की धमकी के पांच दिन बाद थाना पहुंचा मामला

सोमवार को पुलिस ने प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी शिखा रानी तिग्गा की अदालत में पीड़िता का बयान दर्ज कराया। पीडि़ता ने कोर्ट को बताया- काम दिलाने का बहाना बनाकर 20 मई को पप्पू ने कार में उससे दुष्कर्म किया, जबकि उसके दोस्त बिट्टू ने वीडियो बनाया। दूसरे दिन उसे सागर दास के पास काम दिलाने के नाम पर भेजा गया। सागर उसे जुगसलाई के खटाल में लेकर गया और बंद कमरे में गलत काम किया। उसके बाद उसके चार साथियों ने भी गलत काम किया। वीडियो वायरल करने की धमकी मिलने के कारण मामला पांच दिन बाद थाने तक पहुंचा था।

पुलिस ने तीन आरोपियों को भेजा जेल, तीन फरार 

गैंगरेप के मामले में पुलिस ने आरोपी जुगसलाई राम टेकरी रोड के रहने वाले पप्पू मुखी, बागबेड़ा गाढ़ाबासा के सागर दास और जुगसलाई सेंट्रल बैंक के पीछे रहने वाले गगन यादव को गिरफ्तार कर सोमवार को न्यायिक हिरासत में भेज दिया। इस मामले में बिट्टू के अलावा अन्य दो आरोपी की गिरफ्तारी अभी नहीं हो पाई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.