खुलासा: शिक्षक बनने के बाद युवकों का बढ़ गया दहेज!

0
  • सरकार नियोजित शिक्षकों को सम्मान देने में कहीं से पीछे नहीं है

दैनिक झारखंड न्यूज

पटना । बिहार विधानपरिषद में हाईस्कूल के शिक्षकों के वेतन मुद्दे पर बोलते-बोलते शिक्षा मंत्री कृष्णंदन प्रसाद वर्मा ने यह कह दिया कि नियोजित शिक्षक बनने के बाद लोगों का दहेज बढ़ गया है।शिक्षा मंत्री ने तो अपने गांव का एक उदाहरण भी प्रस्तुत कर दिया।मंत्री कृष्णंदन प्रसाद वर्मा कहते-कहते यहां तक कह दिए कि मेरे गांव का एक युवक नियोजित शिक्षक बन गया तो इसका दहेज बढ़ गया।

बिहार में दहेज पूरी तरह से बंद है!

शिक्षा मंत्री के मुंह से जैसे हीं दहेज वाली बात निकली सारा सदन उका मुंह देखने लगा। कई सदस्य तो यह कहने लगे कि मंत्री जी यह क्या कह दिए। अचानक उन्हें अहसास हुआ कि उन्होंने कुछ बोल दिया। फिर यूटर्न मारते हुए शिक्षा मंत्री ने कहा कि नहीं-नहीं अभी की यह बात नहीं है। अभी तो बिहार में दहेज पूरी तरह से बंद है।दहेजबंदी के पहले की यह बात है। दहेज पर फंसने के बाद मंत्री जी ने कई बार सफाई दी । तब जाकर मंत्री जी दहेज के चंगुल सकुशल बचकर बाहर निकले।

सरकार नियोजित शिक्षकों को सम्मान देने में कहीं से पीछे नहीं है

शिक्षा मंत्री ने विधानपरिषद में कहा कि बिहार सरकार नियोजित शिक्षकों को सम्मान देने में कहीं से पीछे नहीं है।हम शिक्षकों की हर समस्या के समादान को लेकर तत्पर हैं।जहां तक वेतन में देरी की बात है तो हम इसको लेकर सक्रिय हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.