तबाही के निशान छोड़ते हुए आगे बढ़ा चक्रवाती तूफान निवार, देखिए तस्वीरें

0

दैनिक झारखंड न्यूज

नई दिल्ली । बंगाल की खाड़ी में उठा चक्रवाती तूफान निवार तबाही के निशान छोड़ते हुए आगे बढ़ गया है। यह बीती रात तमिलनाडु तट से टकराया। इस दौरान कई इलाकों में भारी बारिश हुई। (नीचे दिए तस्वीरें) पुड्डुचेरी और आंध्र प्रदेश में समुद्र तटीय इलाकों में भारी बारिश हुई। मौसम विभाग के मुताबिक, बुधवार सुबह यह 300 किमी प्रति घंटा रफ्तार से आगे बढ़ रहा था। तट से टकराने के बाद यह कमजोर पड़ गया है। चेन्नई में अलग अलग स्थानों पर भारी बारिश हुई है। एनडीआरएफ की मदद से हजारों लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। राज्य सरकार के साथ ही केंद्र सरकार भी नजर रखे हुए है।

मंगलवार रात 9 बजे से गुरुवार सुबह छह बजे तक निषेधाज्ञा लागू

इससे पहले मौसम विभाग का अनुमान था कि बुधवार शाम तक निवार तमिलनाडु-पुडुचेरी के तट से टकरा सकता है और उस समय इसकी रफ्तार 120-130 किलोमीटर प्रति घंटे हो सकती है। तबाही आशंका के चलते बचाव कार्य के लिए तमिलनाडु, पुडुचेरी तथा आंध्र प्रदेश में 1,200 जवान तैनात कर दिए हैं और 800 जवानों को रिजर्व में रखा गया था।

पुडुचेरी में सार्वजनिक स्थानों पर लोगों की आवाजाही और जमावड़ा रोकने के लिए मंगलवार रात 9 बजे से गुरुवार सुबह छह बजे तक निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है। इस दौरान वहां सभी दुकानें तथा कारोबारी प्रतिष्ठान बंद रहेंगे। हालांकि यह आदेश कानून-व्यवस्था तथा जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों पर लागू नहीं होगा।

चक्रवात के असर से हो रही बारिश के कारण चेन्नई में सड़कों पर पानी भरने से जगह-जगह यातायात जाम होता रहा। अन्ना सलाई, जीएसटी रोड तथा काठीपाड़ा जंक्शन पर ज्यादा जाम देखा गया। इसके फोटो इंटरनेट मीडिया पर भी खूब चले।

निवार यानी रोकथाम

बंगाल की खाड़ी में उठे निवार चक्रवात का नाम इस बार ईरान ने रखा है, जिसका अर्थ है-रोकथाम। इसी साल जारी सूची में से इस्तेमाल किया जाने वाला यह तीसरा नाम है। नवंबर में आए तूफान गति का नामकरण भारत ने किया था। इसी प्रकार मई में आए तूफान एम्फन का नाम थाइलैंड ने किया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.