Coronavirus New Strain In India: देश में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के 20 नए मामले दर्ज

0

दैनिक झारखंड न्यूज

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन बढ़ता जा रहा है। ब्रिटेन से फैले इस नए कोरोना वायरस स्ट्रेन के भारत में 20 नए मामले दर्ज किए गए हैं, जिसके बाद कुल आंकड़ा 58 पहुंच गया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसकी जानकारी दी है। रिपोर्ट के मुताबिक, सभी संक्रमित लोगों को आइसोलेशन सेंटर में अलग-अलग रुम में रखा गया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, एनआईवी पुणे लैब (NIV Pune Lab) में सभी 20 नए मामले दर्ज किए गए हैं। मंत्रालय ने बताया कि इन लोगों के संपर्क में आए सभी लोगों को ट्रेस किया जा रहा है। बता दें कि भारत में सबसे पहले कोरोना वायरस के इस नए स्ट्रेन के 6 मामले दर्ज किए गए थे, जिसके बाद यह आंकड़ा बढ़ता गया।

नमूनों का जीनोम सिक्वेंसिंग जारी

इससे पहले देश में नए स्ट्रेन से कुल 38 लोग संक्रमित हुए थे। बता दें कि सबसे पहले यह नया स्ट्रेन यूके में पाया गया था, जो 70 फीसद से तक अधिक संक्रामक है। मंत्रालय ने बताया कि अन्य नमूनों का जीनोम सिक्वेंसिंग भी किया जा रहा है। नमूनों की जांच प्रयोगशालाओं में की जा रही है।

इन देशों में भी पहुंचा कोरोना का नया स्वरुप

बता दें कि भारत ही नहीं बल्की अन्य देशों में यह नया स्वरुप पहुंच चुका है। ब्रिटेन में मिले इस वायरस से डेनमार्क, नीदरलैंड, आस्ट्रेलिया, इटली, स्वीडन, फ्रांस, स्पेन, स्वीटजरलैंड, जर्मनी, कनाडा, जापान, लेबनान एवं सिंगापुर में कई लोग संक्रमित हो चुके हैं।

गौरतलब है कि ब्रिटेन में सामने आए कोरोना के नए स्ट्रेन के मामले में भारतीय वैज्ञानिकों ने कामयाबी हासिल की है। दुनिया में भारत पहला देश ऐसा बन गया है, जिसने इस स्ट्रेन को प्रयोगशाला में अलग (आइसोलेट) करने में कामयाबी हासिल की है। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आइसीएमआर) ने बताया कि वैज्ञानिकों ने नए स्ट्रेन को कल्चर करने में कामयाबी हासिल की है। कल्चर ऐसी वैज्ञानिक प्रक्रिया है, जिसमें लैब में नियंत्रित परिस्थितियों में कोशिकाओं को विकसित किया जाता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.