मैकनिकल इंजीनियर की पढ़ाई के बाद अमलान ने जिले के खिलाड़ियों का बढ़ा रहे मनोबल

0
  • सैकड़ों खिलाड़ियों को जिला से लेकर राज्य स्तर एवं राष्ट्रीय स्तरीय तक के खेलों में दिला चुके है हिस्सा

पाकुड़ से मक़सूद आलम

पाकुड़ । कहते हैं कि कुछ करने का जज्बा हो तो हर राह आसान हो जाती है। बस इरादों में दम होनी चाहिए फिर आपकी कमजोरी भी आपकी ताकत बन जाती है। पाकुड़ जिला एथेलेटिक्स संघ के अध्यक्ष अमलान कुसुम सिन्हा उर्फ बुलटी ने खिलाड़ियों के लिए नई इबारत लिख रहे हैं। अमलान ने वर्ष 2015 में एथेलेटिक्स संघ से जुड़े खिलाड़ियों के प्रति लगन व ईमानदारी के कारण इन्हें संघ ने चंद दिनों के अंदर ही अध्यक्ष पद की जिम्मेवारी सौंपी। खिलाड़ियों के हौसलों का बढ़ावा देने के लिए वर्ष 2015 से अबतक पांच बार जिला स्तरीय एथेलेटिक्स प्रतियोगिता का आयोजन कराया गया है।

अमलान की खेल के प्रति ईमानदारी दिनों दिन खिलाड़ियों  के साथ साथ आम अवाम में चर्चा रही। इधर ख्याति के चलते अमलान कुसुम सिन्हा पाकुड़ जिला साइकलिंग अध्यक्ष,पाकुड जिला तीरंदाजी संघ के कार्यकारी अध्यक्ष एवं पाकुड जिला ओलिंपिक संघ के चेयरमैन बनाये गए।

जिले का मान बढ़ाने का किया गया काम

बुलटी कहते हैं हौंसलों के आगे हर मुश्किल राह आसान हो जाती है। इंसान के इरादे और हौंसले ही उसकी ताकत होती है अगर दुनियां से कुछ अलग करने की इच्छा हो तो आपको अपने सपनो को खुली आंखों से देखने की जरूरत है। जब मुझे एथेलेटिक्स संघ द्वारा अध्यक्ष पद की जिम्मेवारी सौंपी गई उस दौरान जिले के नाम मात्र खिलाड़ी को ही मौका दिया जाता था।

2015 से अबतक ढाई सौ खिलाड़ियों को राज्य स्तर पर एवं दो खिलाड़ी को ईस्ट जोन एवं दस खिलाड़ी को इंटर डिस्ट्रिक्ट नेशनल प्रतियोगिता में भागीदारी दिलाया गया। साइकलिंग संघ के अध्यक्ष बनने के बाद से 35 से 40 खिलाड़ी राज्य स्तर पर भाग ले चुके हैं। जिले से साइकलिंग खेल में तीन खिलाड़ी नेशनल प्रतियोगिता में भाग ले चुके हैं। वही पाकुड जिला तीरंदाजी संघ के कार्यकारी जिला अध्यक्ष बनने पर तीन वर्षों के दौरान जिले में शून्य पड़े संघ को प्रखंड से लेकर जिला  स्तरीय तीरंदाजी प्रतियोगिता का आयोजन कराया एवं  खिलाड़ियों को राज्य स्तर प्रतियोगिता में भागीदारी करवाया गया।

                                                                    डीएसपी को स्वागत करते अमलान

प्रमंडल स्तरीय झारखंड पुलिस मिट में डीआईजी ने सराहना की

प्रमंडल स्तरीय झारखंड पुलिस मिट प्रतियोगिता में जिला एथेलेटिक्स संघ द्वारा हर संभव सहयोग किया गया।अमलान ने तकनीकी पदाधिकारियों को निर्देश देकर पुलिस मिट कार्यक्रम को हर सम्भव सहयोग की अपील की। आयोजन सफल कराया।

मैकनिकल इंजीनियर पढ़ाई के बाद भी सामाजिक कार्यों में ले रहे बढ़चढ़ कर हिस्सा

अमलान कुसुम सिन्हा ने प्रारंभिक शिक्षा हरिणडांगा उच्च विद्यालय से एवं राज प्लस टू से मैट्रिक परीक्षा पास किया। जबकि बीएसके कालेज से प्लस टू की पढ़ाई की।पटना आरपीएस आईटी कालेज से मैकनिकल इंजीनियर की पढ़ाई पूर्ण कर निजी व्यवसाय से जुड़ गए। अमलान ने निजी कंस्ट्रक्शन कंपनी बनाकर काम करते है। उसी से समय निकालकर खेलों को बढ़ावा देने के लिए खिलाड़ियों के लिए दिन प्रतिदिन हर संभव सहयोग करते हैं ।बताया छात्र जीवन से ही क्रिकेट खेल के प्रति लगाव रहा है।

अब भी कई काम अधूरे हैं

अमलान ने बताया कि जिस तरह जिले के खिलाड़ियों को आगे बढ़ाने का काम किया गया। उस अनुपात से सरकार द्वारा सहयोग नही मिल पाया। स्टेडियम बनकर तैयार है परंतु खिलाड़ियों को रहने के लिए किसी प्रकार की सुविधा नही मिल पाई है। जिले के विभिन्न प्रखंडों से खिलाड़ी जिला आना चाहते हैं। खासकर महिला खिलाड़ी को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।हालांकि उन्होंने खुशी का इजहार करते हुए कहा कि सांसद विजय हांसदा के अथक प्रयास से आवासीय डे बोडिंग क्रीड़ा प्रशिक्षण केंद्र तथा क्रीड़ा किसले केंद्र खोलने के लिए सरकार की ओर से भेजा गया है जो स्वागतयोग है। उम्मीद है जल्द ही एक डे बोर्डिंग खिलाड़ियों के लिए निर्माण कराया जाएगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.