ई-विद्या वाहिनी में उपस्थिति नहीं बनाने वाले शिक्षकों पर होगी कार्रवाई, आदेश जारी

0

दैनिक झारखंड न्यूज

रांची। सभी सरकारी माध्‍यमिक और उच्‍चतर माध्‍यमिक विद्यालय के शिक्षकों को ई-विद्यावाहिनी से प्रतिदिन हाजिरी बनानी होगी। इसका दृढ़ता से पालन करना होगा। इस संबंध में माध्‍यमिक शिक्षा निदेशक जटाशंकर चौधरी ने 22 दिसंबर को सभी जिला शिक्षा पदाधिकारी सह जिला कार्यक्रम पदाधिकारी को आदेश दिया है।

बायोमैट्रिक उपस्थिति के बदले ई-विद्यावाहिनी में मैनुअल उपस्थिति दर्ज करने का निर्देश

माध्‍यमिक शिक्षा निदेशक ने आदेश में लिखा है कि राज्य के सभी सरकारी शिक्षकों को ई-विद्यावाहिनी (eVV) के द्वारा प्रतिदिन उपस्थिति दर्ज कराने के लिए आवश्यक निर्देश दिये गये हैं। कोरोना काल में बायोमैट्रिक उपस्थिति के बदले ई-विद्यावाहिनी में मैनुअल उपस्थिति दर्ज करने का निर्देश दिया गया है। विद्यालय बंद रहने के फलस्वरूप कतिपय शिक्षकों द्वारा संभवतः इसका अनुपालन नहीं किया जा रहा है। यह अत्यंत खेदजनक है।

निदेशक ने लिखा है कि स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के सचिव ने 18 दिसंबर, 2020 को जारी पत्र में राज्य के माध्यमिक/उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों में वर्ग-10 और वर्ग- 12 का संचालन 21 दिसंबर से प्रारंभ करने संबंधी निर्देश दिया गया था। माध्यमिक शिक्षा निदेशालय ने 16 दिसंबर, 2020 अपने आदेश में प्रतिदिन विद्यालय में सभी शिक्षकों की उपस्थिति अनिवार्य की है।

ई-विद्यावाहिनी के द्वारा प्रतिदिन उपस्थिति दर्ज कराने के लिए आवश्यक कार्रवाई की जाय

निदेशक ने निर्देश दिया है कि राज्य के सभी सरकारी माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों के सभी शिक्षकों को अपने विद्यालय प्रांगण से ई-विद्यावाहिनी के द्वारा प्रतिदिन उपस्थिति दर्ज कराने के लिए आवश्यक कार्रवाई की जाय। इसके लिए विद्यालय के प्रधानाध्यापक/प्रभारी प्रधानाध्यापक विद्यालय प्रांगण से विद्यालय के टैबलेट/स्वयं के मोबाईल का प्रयोग करते हुये विद्यालय लॉग-इन से उपस्थित शिक्षकों का ई-विद्यावाहिनी के द्वारा मैनुअल उपस्थिति दर्ज करना सुनिश्चित करेंगे। उपरोक्त निर्देश का दृढ़ता से पालन सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक कार्रवाई करने को कहा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.