DEO कार्यालय के लिपिक को ACB ने 14 हजार घुस लेते पकड़ा, शिक्षक को निलंबित कराने का दे रहा था धमकी

0

दैनिक झारखंड न्यूज

खूंटी। शिक्षक की शिकायत पर भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने लिपिक बसंत कुमार नायक को 14 घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया। आगे की कार्रवाई के लिए उसे रांची मुख्‍यालय लाया गया है। वर्ष 2021 में ब्यूरो के रांची प्रमंडल का पहला ट्रैप केस है। गिरफ्तार लिपिक क्षेत्र शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय में कार्यरत है।

जानकारी के मुताबिक जिले के राजकीय उत्क्रमित मध्य विद्यालय, पोढ़ा के सहायक शिक्षक अमर कुमार ने ब्यूरो को लिखित आवेदन दि‍या था। उन्‍होंने सूचित किया था कि क्षेत्र शिक्षा पदाधिकारी कर्यालय के आलोक में उन्‍हें निरीक्षण प्रतिवेदन प्राप्त मिला। इसमें 30 दि‍संबर, 2020 को बिना सूचना के विद्यालय में अनुपस्थित बताकर मेरा वेतन स्थगित करते हुए 2 दिनों में स्पष्टीकरण की मांग की गयी थी। वे प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी कर्रा को लिखित सूचना देकर 30 और 31 दि‍संबर को आकस्मिक अवकाश लिया था। पत्नी के बेहतर इलाज के लिए गया (बिहार) चला गया था।

धमकी दी कि एक सप्ताह में राशि नहीं दिया तो वरीय पदाधिकारी से कह कर निलंबित करा देंगे

क्षेत्र शिक्षा पदाधिकारी 30 और 31 दि‍संबर, 2020 को पूरे कर्रा प्रखंड के सभी स्‍कूलों में सामूहिक अवकाश घोषित किया गया था। इस संबंध जब वे 6 जनवरी, 2021 को अपना स्पष्टीकरण देने क्षेत्र शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय गये, तब लिपिक बसंत नायक ने 14 हजार रुपये रिश्वत की मांग की। मेरा स्पष्टीकरण को स्वीकार नहीं किया। मुझे धमकी दी कि एक सप्ताह में राशि नहीं दिया तो मेरी शिकायत वरीय पदाधिकारी से कर मुझे निलंबित करा देंगे। मेरा स्पष्टीकरण को भी स्वीकार नहीं किया जायेगा। परिवादी रिश्वत देकर काम नहीं कराना चाहते है।

आवेदन का सत्यापन ब्‍यूरो के पुलिस निरीक्षक मो गुलाम शाहिद अंसारी से कराया गया। इसमें रिश्वत मांगने की बात सही पायी गई। परिवादी के लिखित आवेदन एवं सत्यापनकर्ता के सत्यापन प्रतिवेदन के आधार पर ब्यूरो ने कांड दर्ज कर लिया। अभियुक्त लिपिक बसंत नायक को रांची के चुटिया थाना अंतर्गत स्थित अमरावती कॉलोनी से 14 हजार रुपये रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ चाय दुकान से गिरफ्तार किया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.